बंद पड़े ट्रेनों के पुनः परिचालन को लेकर प्रवीण कुमार ने मांगपत्र किया प्रेषित

अररिया(रंजीत ठाकुर): कोरोना संकट के कारण लागू लॉकडाउन दौरान कटिहार स्टेशन से बंद पड़े लोकल यात्री ट्रेनों सहित जोगबनी- आनंद बिहार सीमांचल एक्सप्रेस का परिचालन ना होने से आम यात्रियों के बीच उतपन्न कठिनाइयों पर चिंता प्रकट करते हुए कटिहार डिवीजन के ड़ीआरयूसीसी सदस्य प्रवीण कुमार ने एनएफ रेलवे के रेल महाप्रबंधक मालीगांव, गोहाटी व मंडल रेल प्रबंधक कटिहार को एक मांग पत्र प्रेषित कर यथा शीघ्र पुनः जनहित में परिचालन प्रारंभ किये जाने की मांग की है. डीआरयूसीसी सदस्य प्रवीण कुमार ने अपने प्रेषित मांग पत्र में कहा है कि इस क्षेत्र में लाइफ लाइन के रूप कार्य करने वाली यात्री ट्रेनों के परिचालन बाधित रहने से व्यपारियों के संपूर्ण कारोबार प्रभावित होने के साथ-साथ दैनिक मजदूरों के समक्ष बेरोजगारी का संकट गहराने व किसानों के अनाज मंडी व बाजार तक नही पहुँच पाने के आलावे जहाँ आम यात्री सहित व्यवसायी, मजदूर छात्र ,किसान,सरकारी व गैर सरकारी कर्मी को ना सिर्फ अतिरिक्त आर्थिक संकट बल्कि मानसिक और शारीरिक रूप से परेशान हो रहे हैं। वहीं ट्रेनों में चलने वाले व स्टेशन पर स्टॉल लगाकर चाय, जनआहर बेचने वाले व बादाम, पानी बोतल, खिलौने बेचने वाले आदि पूर्ण रूप से बेरोजगार हो गए हैं। श्री कुमार ने अपने मांग पत्र के जरिये कटिहार- जोगबनी पैसेंजर ट्रेन,जोगबनी-आनंद बिहार सीमांचल एक्सप्रेस, तथा कटिहार-मनिहारी, कटिहार- मालदह, कटिहार- सिलीगुड़ी, कटिहार- राधिकापुर व कटिहार-बरौनी दरभंगा पैसेंजर ट्रेनों का अविलंब परिचालन की मांग जनहित में करते हुए बीते कई महीनों से लंबित डीआरयूसीसी की बैठक को शीघ्र आयोजित किये जाने की मांग की है।