पीएलएफआई उग्रवादियों ने 3 वाहन फूंके, कई राउंड फायरिंग कर फैलाई दहशत!

रांची(न्यूज़ क्राइम24): पीएलएफआई उग्रवादियों ने खूंटी जिले के मुरहू थाना क्षेत्र की बिंदा पंचायत के बमड़दा गांव में एक जेसीबी, एक ट्रैक्टर और एक मोटरसाइकिल फूंक दिया। घटना बुधवार की शाम लगभग सात बजे की है। उग्रवादियों ने दहशत फैलाने के लिए छह-सात राउंड गोलियां भी चलाईं। जेसीबी-ट्रैक्टर बिंदा से लुदमकेल तक बन रही लंबी सड़क के निर्माण में लगे थे। सड़क का निर्माण रामगढ़ की बरारा इंफ्रास्ट्रक्चर नामक कंपनी करा रही है। सड़क का काम होने के बाद शाम को वाहन चालक बमड़दा में वाहन खड़ा करते थे और वहीं रहते थे। इधर घटना के 14 घंटे बाद जेसीबी और ट्रैक्टर के चालक ने मुरहू थाना जाकर पुलिस को जानकारी दी। सूचना मिलने के बाद एसपी आशुतोष शेखर दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। एसपी ने घटना के संबंध में ग्रामीणों से पूछताछ की। इसके बाद वाहनों के चालकों सहित वार्ड सदस्य और सड़क निर्माण के लोकल मुंशी को पूछताछ के लिए थाना ले जाया गया।पैदल पहुंचे थे उग्रवादी घटनास्थल पर लोगों ने हिन्दुस्तान संवाददाता को बताया कि बुधवार की शाम लगभग सात बजे सात-आठ की संख्या में उग्रवादी पैदल बिंदा की ओर से बमड़दा गांव पहुंचे। इसके बाद वाहनों चालकों से गाली-गलौज करते हुए उनका मोबाइल लूट लिया और उन्हें बगल के एक कमरे में बंद कर दिया। घटनास्थल पर एक प्लास्टिक के ड्रम में डीजल पड़ा था। ड्रम में गोली मारने के बाद उसी ड्रम से डीजल निकालकर उग्रवादियों ने जेसीबी, ट्रैक्टर और मोटरसाइकिल जला दी। लगभग 45 मिनट तक तांडव मचाने के बाद उग्रवादी पैदल जंगल की ओर चले गए।
उग्रवादियों के आने बात सुन भाग गए मेहमान

जब उग्रवादी बमड़दा गांव में आये थे, तब गांव के ही गांगू मुंडा के घर में उनके बेटे का वेवाहिक कार्यक्रम बड़का मेहमान चल रहा था। मेहमान खाना-पीना कर रहे थे। पटाखे भी फूट रहे थे, परंतु जैसे ही कार्यक्रम में शामिल लोगों को पता चला कि गांव में उग्रवादी आ गए हैं। सभी डर से अपने घरों में दुबक गए। मेहमान कार्यक्रम छोड़कर भाग गए।