जीरा देवी शीतल साह महाविद्यालय परिसर में विश्व एड्स दिवस मनाया गया

अररिया(रंजीत ठाकुर): अररिया जिले के फारबिसगंज स्थित जीरा देवी शीतल साह महाविद्यालय परिसर में कल दिनांक 1 दिसंबर 2020,मंगलवार को विश्व एड्स दिवस मनाया गया।
कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए इस कार्यक्रम की शुरुआत हुई,जिसमें महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ० रामसुंदर साह ने कार्यक्रम में उपस्थित सभी शिक्षक एवं शिक्षकेतर कर्मचारियों सहित उपस्थित छात्राओं को संबोधित करते हुए एड्स के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि यह एक गंभीर और लाइलाज बीमारी है। जिससे हमसबों को बचने की जरूरत है। पश्चिमी सभ्यता के प्रभाव के चलते हमारे समाज में खुलापन देखा जा रहा है।खुलापन होना कोई बुरी बात तो नहीं है,परंतु हमें अनैतिक संबंधों से बचना चाहिए,क्योंकि यह भयानक रोग अक्सर अनैतिक संबंधों से ही फैलता है,जिसका कोई समुचित इलाज अबतक नहीं मिल पाया है।अन्य शिक्षकों ने भी अपने-अपने विचार रखे। प्रत्येक वर्ष 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है. वहीं इस कार्यक्रम में प्राचार्य डॉ० रामसुंदर साह के अलावा प्रोफेसर हीरालाल मेहता, रामनाथ साह, प्रधान लिपिक रामानंद साह,लेखापाल प्रदीप कुमार साह,पत्राचार लिपिक ललन प्रसाद साह,रोकड़पाल मोहम्मद रजाक मंसूरी,कार्यालय सहायक चुन्नी लाल सिंह, विमला कुमारी,आदेशपाल हारून बैठा,धन बहादुर शर्मा सहित कई छात्राएं भी इस अवसर पर मौजूद थे।