घर से खेलने निकले बच्ची का चार दिनों से लापता

बछवाड़ा(राकेश यादव): बेगूसराय बड़े हीं चुलबुली एवं चंचल स्वभाव की बच्ची थी श्रृष्टि। अभी तो उसने दुनियां में कदम हीं रखा था। भला उसकी किसी से क्या दुश्मनी हो। फिर उसे जमीन खा गया या आसमान निगल गया। आखिर क्या हुआ, कहां लापता हो गई नन्ही सी परी श्रृष्टि यह सवाल उस रोते-बिलखते परिजनों का है। जिसके जिगर के टुकड़े नन्ही सी बिटिया श्रृष्टि कुमारी अचानक लापता हो गई। बताते चलें कि चमथा गांव में घर से खेलने निकले लगभग पांच वर्षीय बच्ची का कोई अता-पता नहीं चल सका है। बच्ची के अचानक लापता होने की लिखित शिकायत परिजनों नें बछवाड़ा थाने में दर्ज कराया है। परिजनों नें बताया कि विगत दिनों उक्त बच्ची अपने ननिहाल चमथा गोप टोल निवासी पृथ्वी राय के यहां आयी थी। जबकि उक्त बच्ची श्रृष्टि कुमारी बुधवार की शाम को अपने ननिहाल से खेलने हेतु घर से निकली थी। देर शाम तक घर वापस नहीं लौटने पर घर वालों की परेशानी बढ़ गयी। परिजनों नें रात भर अपने स्तर से लापता बच्ची को खोजबीन करने का काफी प्रयास किया, मगर कोइ सफलता नहीं मिली। तत्पश्चात अगले दिन लापता बच्ची के पिता पटना जिले के विरगंज थाना अंतर्गत रवासपुर निवासी रौशन कुमार नें थाने में लिखित शिकायत दर्ज कराई है। साथ हीं बच्ची के परिजनों नें बताया कि लापता बच्ची का रंग गोरा है, और वह गुलाबी रंग का फ्राॅक पहने हुए है। वह गुलाबी रंग का श्वेटर एवं हाफ जिंस पैंट पहने हुए व खाली पैर है। थानाध्यक्ष अरविन्द कुमार सुमन नें बताया कि बच्ची के लापता होने की सुचना प्राप्त हुइ है। खोजबीन जारी है, मिलने के पश्चात हीं परिजनों को सौंप दिया जाएगा।