ग्रामीण युवाओं की बैठक में लोगों को किया गया जागरूक

अररिया(रंजीत ठाकुर): मानव तस्करी व बाल श्रम को रोकने हेतु बैठक में चार्चा करते हुए. मंगलवार को सीमावर्ती क्षेत्र अमौना पंचायत के बघुआ मॉडल गांव में मानव तस्करी व बाल श्रमिक के विरुद्ध पंचायत के वार्ड सदस्य प्रतिनिधि मुन्ना पासवान के अध्यक्षता में ग्रामीणों युवाओं की एक बैठक आयोजित किया गया। बैठक में युवाओं ने उपस्थित लोगों को जागरूक किया । साथ ही बैठक में संलाप संस्था कोलकाता व जागरण कल्याण भारती फारबिसगंज के नेतृत्व में यह कार्यक्रम आयोजन किया गया। कार्यक्रम वॉइस फॉर चेंज के अंतर्गत इस वार्ड के ग्रामीण युवाओं को जागरूक किया गया। लोगों को बताया गया कि सीमावर्ती क्षेत्र में किस तरीके से मानव तस्करी व बाल श्रमिक का प्रचलन बढ़ता जा रहा है । उसे रोकना हमारी पहला कर्तव्य है इसलिए हम सभी मिलकर इस कुकृत्य कारनामे को बंद करवा सकते हैं। इसमें आप सभी युवाओं ग्रामीणों की सहयोग जरुरी है। संलाप संस्था के तृप्ति भौमिक व लूना घोष तथा जागरण कल्याण भारती के संजय कुमार ,बिटटू यादव , काजल , शिवानी ,संतोषी दिलीप मुखिया ,शिव किशोर पासवान , कुन्दन कुमार पासवान सहित अन्य ग्रामीणों की उपस्थित रही । वही सभी को संबोधित करते हुए संजय कुमार ने कहा कि सरकार के द्वारा स्पष्ट है कि बाल श्रमिक व मानव तस्करी रोकना है जिसके लिए वार्ड स्तर पर सीपीसी का गठन करना है जिसमें वार्ड सदस्य वार्ड के अध्यक्ष तथा पंचायत के अध्यक्ष मुखिया होंगे । वहीं संस्था के तृप्ति भौमिक ने कहा कि संस्था सीमा पर तो कार्य कर ही रही है लेकिन अब सीमा से सटे ग्रामीण इलाकों में भी इस कार्य को करते हुए ग्रामीणों को जागरूक करना है ताकि बाल श्रम तथा हमारी बेटी मानव तस्करी का शिकार नहीं बने पर अंकुश लगाया जा सके। यह तभी संभव होगा जब ग्रामीण स्तर पर लोग जागरूक होंगे।