लालच ने बनाया ठगी का शिकार, असली के नाम पर मिला नकली सोना

 लालच ने बनाया ठगी का शिकार, असली के नाम पर मिला नकली सोना

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): शादी की खरीदारी के लिए टेम्पो से पटना जा रही मोती चौक खगौल निवासी आशा देवी फुलवारी पहुंचते पहुंचते ठगी का शिकार हो गई। टेम्पो चालक सहित चार लोगों के गिरोह ने महिला को ठगी का शिकार बना लिया, असली सोना बताकर उसे नकली सोना देकर दस हजार रुपए ठग लिए । घटना के बाद महिला डिप्रेशन में चली गई और वह पुलिस के पास शिकायत करने नहीं गए घटना के बाद से शादी करें शादी ब्याह वाले घर में मातम से माहौल है.

असली सोने के लालच में आकर दस हजार की ठगी का शिकार हुई महिला ने बताया कि वह बुधवार को टेम्पो से पटना जा रही थी। मोती चौक से टेम्पो पकड़कर वह फुलवारी में उतरी,फिर पटना जाने के लिए एक दूसरे थ्री सीटर टेम्पो में बैठी, जिसमें पहले से ही दो अन्य लोग बैठे हुए थे। उसके बैठने के कुछ देर बाद उनमें से एक व्यक्ति ने कहा कि उसे कुछ गिरा हुआ मिला है,तभी एक और व्यक्ति वहां पर आया, उसने बताया कि उसका तीन लाख का सोना,यहीं पर कहीं गिर गया है। उसके जाने के बाद पहले से बैठे उस व्यक्ति ने कहा कि इस सोने को तीन हिस्सों में बांट लेते हैं। एक ने कहा कि सोना तुम दोनों ले लो, मुझे उसके बदले में पैसे दे दो,एक ने कहा कि मैं पन्द्रह हजार रुपए और साथ में अपनी अंगुठी भी देता हूं, मुझे सोने का एक बिस्किट दे दो, उसने महिला से भी अपने पास के पैसे देकर सोने का एक बिस्किट ले लेने का आग्रह किया। महिला उनके झांसे में आ गई और अपने पास के दस हजार रुपए देकर सोने का एक बिस्किट ले लिया। जिसकी कीमत ठगों ने 1.5 लाख रुपये बताया था। डेढ़ लाख का सोना दस हजार रुपए में मिलने की बात सुनकर महिला लालच में आ गई. उन दोनों व्यक्तियों के उतर जाने के बाद टेम्पो चालक ने महिला से कहा कि उसका टेम्पो खराब हो गया है,वह दूसरा टेम्पो पकड़कर पटना चली जाए लेकिन महिला पटना जाने के बजाए वापस लौट गई.

ज्वेलर्स से पता चला नकली सोने का सच-

महिला उस सोने वाले बिस्किट को दिखाने खगौल में सोनार के पास पहुंची। ठग युवक ने उसे सोने का बिस्किट सुनार के गुलाबी पेपर में लपेट कर दिया था. जिसकी जांच खगौल में ज्वेलर्स के यहां पर करवाने पर मालूम पड़ा कि वह सोना नकली है. यह सुनकर वो तो बेसुध हो गई. ठगी करने वाला एक व्यक्ति गोरा चिट्टा एवं 45 वर्ष का लग रहा था. उसकी बोली भी साधारण व्यक्ति जैसी थी. फिलहाल उस महिला के पास टेम्पो के अलावा और कोई भी पहचान नहीं है और वह अभी तक सदमे में है।

News Crime 24 Desk

Related post