33 वर्ष पहले टूटा रिंग बांध कि नहीं हुई मरम्मत!

अररिया(रंजीत ठाकुर): नरपतगंज प्रखंड क्षेत्र के भंगही पंचायत के श्यामनगर गांव स्थित शुक्रवार को ग्रामीणों ने रिंग बांध पर आकर आक्रोश पूर्ण प्रदर्शन किया । ग्रामीण अपने हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां लेकर सैकड़ों की संख्या में ध्वस्त रिंग बांध के बीचोबीच खड़े होकर रोशपूर्ण प्रदर्शन करते हुए नारे लगा रहे थे कि रिंग बांध नहीं तो वोट नहीं ,श्यामनगर का विकास नहीं तो वोट नहीं । प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों ने कहा कि रिंग बांध का दक्षिणी हिस्सा वर्ष 1987 की भीषण बाढ़ में टूट कर ध्वस्त हो गया था जिस कारण नहर के दक्षिण निवास करने वाले पुलाहा , चकला , चकरदहा आदि गांवों  के लोगे बाढ़ वर्षात के दिनों में बथनाहा बाजार नहीं आ पाते हैं तो वहीं 2017 की भीषण बाढ़ में बांध का उत्तरी हिस्सा दर्जनों जगह टूट कर ध्वस्त हो गया ।  तथा रिंग बांध में 15 से 20 फीट तक का गड्ढा हो चुका है बांध कहा है इसका आता पता नहीं है ।ग्रामीण कहते हैं कि यह रिंग बांध जहां बाढ़ बरसात के दिनों में लोगों की रक्षा करता था वही आवागमन का मुख्य मार्ग भी है जो अब पूर्ण रूप से ध्वस्त हो चुका है जिस कारण अब इस रिंग बांध से पैदल चलना भी मुश्किल है । वही प्रदर्शन कर रहे  ग्रामीण शंकर मंडल ने कहा कि रिंग बांध ध्वस्त होने के बाद वर्तमान सांसद प्रदीप सिंह तथा नरपतगंज के विधायक  अनिल यादव से कई बार गुहार लगाया गया लेकिन इन लोगों के द्वारा किसी प्रकार का कार्यवाही नहीं किया गया वही ग्रामीणों ने यह भी कहा कि इस समस्या का निदान के लिए कई बार मौखिक रूप से अनुमंडल पदाधिकारी फारबिसगंज तथा जिला पदाधिकारी अररिया व संबंधित पदाधिकारी से अनुरोध किया गया लेकिन किसी भी अधिकारी व राज नेताओं ने इस ओर ध्यान नहीं दिया वही मौके पर उपस्थित  शेखर मल्लिक  ने कहा कि विगत लोकसभा चुनाव के दौरान भाजपा नेता उमानंद राय ने ग्रामीणों को आकर आश्वासन दिया था कि आप लोग वोट दीजिए और सांसद बनते ही प्रदीप सिंह के द्वारा इस बांध का निर्माण करा दिया जाएगा लेकिन 2 वर्ष के लगभग चुनाव के बीत जाने के बाद भी अब तक बांध का निर्माण नहीं होने से ग्रामीण आक्रोशित हैं.

प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण ओमप्रकाश सिंह , आनंद मंडल ,सत्यम वर्मा ,संजीव ठाकुर ,महेश मंडल ,राजेश मंडल , उपेंद्र कुमार ठाकुर , पवन दास ,पुष्पम वर्मा ,सदानंद मंडल आदि ने कहा कि इस बार के विधानसभा चुनाव में जब तक रिंग बांध का निर्माण तथा बांध के ऊपर रोड का निर्माण नहीं कर दिया जाता तब तक हम लोग चुनाव में हिस्सा नहीं लेंगे वही ग्रामीणों ने यह भी कहा कि श्यामनगर को अब तक उपेक्षित रखा गया जो भी सांसद व विधायक चुनाव जीत कर गए  उन्होंने फिर मुड़कर के श्यामनगर के तरफ नहीं देखा जिस कारण आज तक श्यामनगर का विकास नहीं हो पाया है और श्यामनगर के लोग ठगे ठगे से महसूस कर रहे हैं ।चुकी बाढ़ के दिनों में यहां के लोगों को अपने परिजनों व बच्चो का जान बचाने के लिए यहां से 3 किलोमीटर   की दूरी पर बथनाहा जाना पड़ता है । ग्रामीणों ने यह भी कहा कि इस बार आर-पार की लड़ाई होगी बांध निर्माण तथा बांध के ऊपर जबतक सड़क का निर्माण नहीं हो जाता है तब तक हम लोग वोट गिराने नही जाएंगे तथा पडोस के गांवों के लोगो से वोट  बहिष्कार करने को कहेंगे।