ज़हरीला भोजन खाने से एक व्यापारी की मौत, दो मज़दूर की हालत गंभीर!

जमुई(मो० अंजुम आलम): खैरा थाना क्षेत्र के डुमरकोला गांव निवासी जुलूस उर्फ जूलो मोदी के घर में खाना खाने के दौरान एक व्यापारी और दो मज़दूर की तबियत बिगड़ गई। तबीयत बिगड़ता देख आनन- फानन में तीनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। तीनों की स्थिति नाजुक रहने की वजह से चिकित्सक द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया। पटना ले जाने के दौरान रास्ते में ही सदर थाना क्षेत्र के खैरमा गांव निवासी व्यापारी स्व. बीरबल साव के 34 वर्षीय पुत्र रूपेश कुमार साव की मौत हो गई। जबकि दोनों मजदूर को गंभीर हालत में पटना के पारस हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। बीमार मजदूर की पहचान डुमरकोला गांव निवासी स्व. बट्टन यादव के पुत्र सुरेश यादव और जुलूस मोदी के पुत्र मुकेश कुमार मोदी के रूप में हुई है। स्वजन ने बताया कि रूपेश साव हमेशा धान खरीदने के लिए एक- दूसरे गांव में जाया करता था। डूमरकोला गांव भी वे कई बार जा चुका था। वह धान को इकट्ठे कर बेचते थे। सोमवार को भी वह अपना वाहन लेकर धान खरीदने के लिए डूमरकोला गांव गए थे। जहां करीब 3 बजे शाम में जगदीश मोदी के घर में तड़का और चावल खाया था। इसके साथ घर का एक सदस्य मुकेश कुमार मोदी और गांव के ही एक मजदूर सुरेश यादव भी खाना खाया था। खाना खाने के करीब आधा घंटे के बाद व्यापारी के पेट में दर्द और शौच होने लगा उसके बाद उसके मुंह से झाग निकलने लगा। तबीयत बिगड़ता देख तीनो को सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां से तीनो को चिकित्सक द्वारा पटना रेफर कर दिया गया था। मृतक के स्वजन ने बताया कि खाना खाने में तीन लोग थे जिसमें एक मज़दूर घर का ही सदस्य था। किसी बाहरी लोगों द्वारा खाना में ज़हरीला पदार्थ मिलाने की आशंका जताई जा रही है। इधर सूचना के बाद पुलिस मृतक के घर खैरमा में पहुंचकर छानबीन कर रही है। साथ ही घटना स्थल पर भी पुलिस जांच में जुटी हुई है.

बीमार मुकेश की पत्नी ने बनाई थी खाना-

घर में मौजूद मुकेश की पत्नी कविता देवी से पुलिस द्वारा पूछने पर उसने बताया कि खाना वो खुद बनाई थी और अपने पति मुकेश मोदी के साथ रूपेश कुमार साव और सूरज यादव को खाना दिया था। उनलोगों के खाने के बाद उसने खुद खाना खाने के लिए बैठी थी लेकिन एक- दो निवाला खाने के बाद मज़ा बदला सा लगा तो फिर उसे छोड़ दिया। घटना की जानकारी लेने के बाद पुलिस खाना और प्लेट को जब्त कर जांच के लिए जमुई भेज दिया। हालांकि घटना के संबंध में स्वजन द्वारा फिलहाल मुकदमा दर्ज नहीं कराया गया है।