स्वेच्छा से काम करने वाली माइक्रोबायोलॉजिस्ट रीतिका ठाकुर को पारिश्रमिक देने का निर्देश!

धनबाद : कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी में एक और जहां लोग कोरोनावायरस के नाम से कांप जाते हैं वहीं दूसरी ओर इस विपरित परिस्थिति में कोरोना वायरस से सीधा संपर्क में आने वाली माइक्रोबायोलॉजिस्ट सुश्री रीतिका ठाकुर स्वेच्छा से पीएमसीएच के माइक्रोबायोलॉजी विभाग में अप्रैल माह से बिना पारिश्रमिक लिए निस्वार्थ भाव से अपनी सेवा देती आ रही है.

सुश्री रीतिका ठाकुर के सेवा भाव को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से उपायुक्त सह अध्यक्ष, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार, धनबाद श्री उमा शंकर सिंह ने पीएमसीएच के प्राचार्य डॉ शैलेंद्र कुमार तथा एचओडी, माइक्रोबायोलॉजी डॉ बी.के. सिंह को सुश्री रीतिक ठाकुर को अप्रैल 2020 से लेकर सितंबर 2020 तक का पारिश्रमिक देने के लिए राशि का निर्धारण करने का निर्देश दिया है. उपायुक्त ने 23 जुलाई की संध्या 5:00 तक राशि का निर्धारण करने और जिला प्रशासन से राशि मिलने के बाद उस राशि को अविलंब 2 दिनों के अंदर सुश्री रीतिका ठाकुर के बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करने का निर्देश दिया।