सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कुदरहा पर जमकर हुआ हंगामा!

कुदरहा: बस्ती लालगंज थाना क्षेत्र के एक गांव में कोरोना संक्रमित निकले एक आठ वर्षीय बच्चे को रेफर करने गई आरआरटी टीम के साथ आशा अपने परिवार वालों को इकट्ठा कर टीम के साथ अभद्रता की। शनिवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कुदरहा पर अपने लड़के के साथ पहुंची आशा रिकॉर्ड को छीनकर फाड़ दिया। गाली गलौज देते हुए केंद्र पर जमकर हंगामा किया। आरआरटी टीम में शामिल आयुष महिला डॉक्टर ने इस मामले में कलवारी पुलिस को तहरीर दी।सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर बनी आरआरटी की टीम में शामिल आयुष महिला चिकित्सक डॉ रजनी व एएनएम चांदनी व बिन्दू ने संयुक्त रुप से कलवारी पुलिस को दिए तहरीर में आरोप लगाया है कि लालगंज थाना क्षेत्र के बैरवा गांव मे एक आठ बर्षीय लड़की कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी। जिसे 30 सितम्बर को रिफर करने गांव में पहुची आरआरटी टीम से गांव की आशा उर्मिला देवी अपने लड़के संदीप के अलावा परिवार के और लोग भी इकट्ठा होकर उलझ गए। रिफर करने के एवज में बीस हजार रूपये की डिमांड़ करने लगे। जबाब में हम लोगों ने बताया कि सरकार द्वारा ऐसी कोई धन की योजना नही है। इतना सुनते ही लोग उग्र हो गए और गाली गलौज देते हुए लाठी डण्डा लेकर टीम के ऊपर टूट पड़े। लालगंज पुलिस की तत्परता से मामला किसी तरह शांत हुआ। लोकिन शनिवार को पुनः स्वस्थ्य केन्द्र पर आशा बहू उर्मिला अपने लड़के संदीप के साथ पहुचकर हंगामा करने लगी।आरआरटी टीम की रिफरल का रिपोर्ट फाड़कर गाली गलौज देने लगे। इतने में परिसर में भीड़ इक्ट्ठा हो गई। अस्पताल कर्मचारियों द्वारा किसी तरह उन दोनों को बाहर किया गया। दोनों बाहर निकलने पर आरआरटी टीम को देख लेने की धमकी भी दे डाली।
इस सम्बन्ध में थानाध्यक्ष कलवारी बिंदेश्वरी मणि त्रिपाठी ने बताया कि तहरीर मिली है जांच कर कार्रवाई की जाएगी।