विधानसभा चुनाव को लेकर नामांकन देने के बाद कैप्टन आलोक मेहता को पुलिस ने किया गिरफ्तार

अररिया(रंजीत ठाकुर): फारबिसगंज अनुमंडल कार्यालय में नरपतगंज विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन करने आज छठे एवं अंतिम दिन कैप्टन आलोक मेहता पहुंचे हुए थे। नामांकन लेने के बाद जैसे ही वह बाहर निकले पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।श्री मेहता बार-बार पुलिसकर्मियों से वारंट दिखाने को कहते रहे लेकिन पुलिसकर्मियों ने उनकी एक न सुनी और उन्हें गाड़ी में बैठा कर चलते बने. बताया जाता है कि बीते दिनों नरपतगंज बड़ौदा बैंक परिसर में घुसकर अभद्र व्यवहार एवं सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करने को लेकर शाखा प्रबंधक द्वारा नरपतगंज थाना में उन्हें नामजद कर प्राथमिकी दर्ज करवाई गई थी। शाखा प्रबंधक ने दिए गए आवेदन में आरोप लगाया था कि गुरुवार को मधुरा दक्षिण पंचायत के कोसी कॉलोनी निवासी आलोक कुमार मेहता ने बैंक परिसर में घुसकर सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करते हुए अभद्र व्यवहार किया था। मामले को लेकर पूछे जाने पर थाना अध्यक्ष ए एम हैदरी ने बताया कि शाखा प्रबंधक द्वारा दिए गए आवेदन के बाद मामले में जांच कर अभद्र व्यवहार एवं सरकारी काम में बाधा उत्पन्न करने का प्राथमिकी दर्ज किया गया था,जिसमें आज मंगलवार को नरपतगंज विधानसभा क्षेत्र से नामांकन देने आए निर्दलीय प्रतियाशी को नामांकन के बाद गिरफ्तार कर लिया गया। नरपतगंज थाना कांड संख्या 473/20 के में श्री मेहता नामजद अभियुक्त है । जिनके आधार पर जोगबनी थाना के एएसआई पंकज कुमार शर्मा के नेतृत्व में यह गिरफ्तारी की गई । उनकी गिरफ्तारी की खबर मिलते ही उनके समर्थकों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है। नामांकन देने के बाद किसी प्रत्याशी की पुलिस द्वारा यह पहली गिरफ्तारी है।