लखनऊ में लोक भवन के सामने अमेठी की दो महिलाओं ने किया था आत्मदाह!

लखनऊ: लोक भवन के सामने अमेठी की दो महिलाओं ने किया था आत्मदाह. इस आत्मदाह के मामले मे अमेठी के जामो थाना प्रभारी, हल्का प्रभारी और दो बीट
आरक्षी को निलंबित कर दिया गया है. पूरे मामले मे थाने की संदिग्ध भूमिका की जांच के आदेश भी दिए गये है. पुलिस अधीक्षक अमेठी ख्याति गर्ग और डीएम अरुण कुमार ने इस घटना पर संयुक्त बयान दिया है. बताते चलें कि लोकभवन गेट नंबर 3 पर अमेठी की दो पीड़ित महिलाओं ने कल आत्मदाह कर लिया था, वहीं लोकभवन की सुरक्षा में कल बड़ी चूक देखने को मिली है. यह भी जाने कि 9मई को दो पक्षो मे नाली को लेकर विवाद हुआ था, थाने के एकतरफा कार्यवाही को लेकर विवाद में अधिकारियों के चक्कर काटकर परेशान हुई इन दोनों महिलाओं ने लखनऊ आकर आत्महत्या का प्रयास करते हुए खुद को आग लगा लिया. जबकि अमेठी के जामो थाने में दोनो पक्षो की तरफ से तहरीर दी गई थी. जानकारी के मुताबिक उस वख्त विवाद के दौरान हुई मारपीट में महिलाओं को गंभीर चोटें भी आई थी.

इस दुःखद घटनाक्रम को लेकर उत्तर प्रदेश में सियासत गर्म है. समाजवादी पार्टी के सुप्रीमो अखिलेश यादव ने ट्वीट के जरिये सरकार पर निशाना साधा है. अखिलेश ने लिखा कि लोकभवन के सामने आत्मदाह की ये घटना, घटना जगाने के लिए काफी नहीं है क्या ?, सोती सरकार को जगाने के लिए क्या काफी नहीं है. वहीं उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री व बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट के जरिये लिखा हैकि जमीनी विवाद प्रकरण में अमेठी जिला प्रशासन से न्याय न मिलने पर मां बेटी को लखनऊ में सीएम कार्यालय के सामने आत्मदाह करने को मजबूर होना पड़ा उत्तर प्रदेश सरकार इस घटना को गंभीरता से लें तथा पीड़ित को ना दे वह लापरवाह अफसरों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करें ताकी ऐसी घटना पुनः ना हो।