रूपसपुर थानाध्यक्ष पर शोकाॅज!

पटना(आनंद मोहन): व्यवहार न्यायालय परिवाद वाद संख्या 4423/ 2017 में अभियुक्त को गिरफ्तार नहीं करने पर पटना कोर्ट ने नाराजगी जाहिर की है। मिस किर्ति प्रसाद की न्यायालय ने पटना के रूपसपुर थानाध्यक्ष चंद्रभानु सिंह पर शोकाॅज किया है। रूपसपुर थानाध्यक्ष को 12 नवंबर तक कारण बताओ नोटिस का जवाब देते हुए यह बताने को कहा गया है कि अदालत के आदेश का पालन करते हुए अभियुक्तगण को अब तक गिरफ्तार क्यों नहीं की गई।

कोर्ट के द्वारा पहले भी गिरफ्तारी वारंटी का तामिला रूपसपुर थानाध्यक्ष को भेजा गया था लेकिन उनके द्वारा अभी तक वारंट तामिला नहीं किया गया है। बार-बार अदालत का आदेश का आवेलना रूपसपुर थानाध्यक्ष के द्वारा की जा रही है। जिसे कोर्ट ने कड़े लफ्जों में थानाध्यक्ष पर फटकार लगाई है।

न्यायालय ने कहा कि रूपसपुर थानाध्यक्ष स्वयं उपस्थित होकर 12 नवंबर को जवाब देंगे अन्यथा उनके ऊपर न्यायालय के अवेलना के आरोप में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जिसकी सारी जवाबदेही रूपसपुर थानाध्यक्ष की होगी।