राम विलास पासवान, मंडल मसीहा थेः पप्पू यादव

पटना(न्यूज़ क्राइम 24): जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने शुक्रवार को दिवंगत केंद्रीय मंत्री और लोजपा के संरक्षक राम विलास पासवान को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि वे मंडल मसीहा थे। उन्होंने स्वर्गीय पासवान को सादगी से भरा, सदा मुस्कुराने वाला और सबका दिल जीतने वाला इंसान बताया। उन्होंने कहा कि वे जाति-धर्म की संकीर्णता में कभी नहीं आए। वे सबसे प्यार करते थे, सब उनसे प्यार करते थे। इसमें दल का कोई बंधन नहीं था. पप्पू यादव ने कहा कि हमारी इच्छा थी कि वे एक बार बिहार का नेतृत्व करें लेकिन ऐसा नहीं हो सका। उन्होंने कहा कि राम विलास जी जिस मंत्रालय में रहे उसे आम आदमी के लिए सुलभ बनाया। कुर्सी की पहचान उनसे थी, उनकी पहचान कुर्सी से नहीं थी। जाप अध्यक्ष ने उन्हें सदी का महानायक बताया.

पप्पू यादव ने कहा कि उनके जाने से सदन सूना हो गया है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर स्वर्गीय पासवान को सम्मान नहीं देने का आरोप लगाया। कहा कि जब वे बीमार थे तो कह रहे थे कि उन्हें कुछ नहीं पता मगर अब श्रंद्धांजलि दे रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को सलाह देते हुए उन्होंने कहा कि सम्मान सिर्फ भाषा से नहीं बल्कि आचरण से भी दें। पप्पू यादव और उनकी पार्टी के सदस्यों ने दो मिनट का मौन धारण कर स्वर्गीय पासवान को श्रद्धांजलि दी.

इसके बाद पप्पू यादव ने कहा कि एनडीए ने वीआईपी को इतनी सीटें दे दीं तो लोजपा को 30-35 सीटें देने में क्या दिक्कत थी। उन्होंने भाजपा व जदयू पर लोजपा के संस्थापक अध्यक्ष को कष्ट देने का आरोप लगाया. एक अन्य प्रसंग में उन्होंने चुनाव आयोग पर चुनाव को मजाक बनाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कम से कम एक जगह चुनावी सभास्थल की अनुमति चुनाव आयोग दे।