यह कैसा इंसाफ, पहले अवैध प्रेम सम्बन्ध के आरोप में सिर मुंडवाया फिर ग्रामीणों ने पंचायत के सामने लूटी अस्मिता!

कटिहार: डंडखोरा थाना क्षेत्र के केलाबाड़ी पंचायत के इस घटना में अवैध प्रेम सम्बन्ध के आरोप में सिर मुंडवाकर गाँव में घुमाने का वीडियो पहले ही वायरल हुआ था लेकिन अब ग्रामीण प्रतिनिधियों की मौजूदगी में सजा देने के नाम पर पुरे पंचायत किस तरह एक महिला की अस्मिता लूट ली गई उसका भी वीडियो सामने आया है, पुलिस एक बार फिर वीडियो के आधार पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की बात कह रही है,कटिहार में कलयुग के दुष्शासनों की टोली सजा देने के नाम पर द्रोपदी की चीरहरण करता रहा, द्रोपदी चीखती रही चिल्लाती रही मगर इन दानवो की नजर में उनका गुनाह इतना बड़ा था की सामूहिक दुष्कर्म के साथ साथ अवैध प्रेम संबंध के आरोप में दोनों प्रेमी युगल को पूरी शरीर से कपड़ा उतरवा कर उन लोगों के प्राइवेट पार्ट को लोहे की सरिये से दाग कर पुरे शरीर में निशान बना दिया और अब लगातार वीडियो वायरल होने के बावजूद कार्रवाई के नाम पर पुलिस के हाथ खाली है। पीड़ित लड़की जहाँ गाँव में ही होने की बात बताई जा रही है, वहीँ लड़का को छोड़ने के एवज में दो लाख पच्चीस हज़ार का डिमांड रखने वाले पंचायत को किसी तरह लड़के के परिजन पचास हजार रुपया देकर उन दरिंदो के चुंगल से छुड़ाकर ले आया है। फिलहाल गंभीर हालात में लड़का का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।पीड़ित ने कहा की उससे महिला की मित्रता थी उसी के बुलावे पर वो मिलने गया था जहां समाज ने पंचायती के नाम पर लड़की से दुष्कर्म के साथ साथ उसे भी बुरी तरह पिटाई किया,एक पंचायत की इन्साफ देने के नाम पर हैवान चेहरा और उसके तहत दी गई सजा से घायल हुए पीड़ित से मिलने पहुंचे जदयू जिला अध्यक्ष ने कहा की मामला चाहे जो भी हो कानून हाथ में लेने की अधिकार किसी को नहीं है। उधर पुलिस अब दूसरी बार लड़की के साथ सामूहिक रूप से छेड़छाड़ और दुष्कर्म का वीडियो सामने आने के बाद जल्द मामला दर्ज कर कार्रवाई का भरोसा दे रहे हैं,किसी भी मामले के फैसले में समाज और ग्रामीण पंचायत की बहुत बड़ी भूमिका होती है, लेकिन ग्रामीण पंचायत ही अगर फैसले के नाम पर इस तरह से आबरू के लुटेरे बनकर सजा देने लगे तो ऐसी पंचायत पर और इनसे जुड़े प्रतिनिधियों पर भी कठोर सजा होना चाहिए।