मेहंदी राचण लागी हाथा में, तन धन रे नाम रीज…भजन पर झूमे भक्त

[Edited By: Robin Raj]

पटना/पटनासिटी(संवाददाता, न्यूज़ क्राइम 24): तनधन बाबो सेठ, म्हारी नारायणी सेठानी हेै…, लाया थारी चुनरी करियो माँ स्वीकार…., मेहंदी राचण लागी हाथा में, तन धन रे नाम रीज… जैसे सुमधुर भजनों के बीच पटना का कुम्हरार भक्तिमय हो गया. मौका था तुलस्यान परिवार द्वारा आयोजित तुलस्यान भवन में श्री राणी सती दादी जी के मंगल पाठ एवम भजन संध्या का,  जहां दादी जी के पूजा-अर्चना में सैकड़ों की संख्या में महिलाओं ने भाग लिया और दादी के भक्तों ने भक्ति भाव से पूजन अर्चन किया एवं दादी की महिमा का बखान किया. मंगल पाठ में घर और आसपास की महिलाएं शामिल रही. वहीं राणी दादी के जन्म से लेकर सती होने तक की गाथा का बखान मंगल पाठ में किया गया. इस अवसर पर दादी जी की ज्योत जलाई गई स्वाति तुलस्यान, अर्पणा तुलस्यान एवम अन्नू तुलस्यान द्वारा दादी जी के भजनों की रसगंगा बहाई गई. भक्त झूम-झूम कर दादी जी को रिझा रहे थे. भजनों के दौरान श्रद्धालुओं ने राणी सती दादी के जमकर जयकारे लगाए.

भजन-संध्या में शामिल हुए-

इस मौके पर स्वाति तुलस्यान ने कहा कि कभी-कभी दादी अपने भक्तों की परीक्षा भी लेती हैं और उनके सामने छोटे-मोटे संकट उत्पन्न करती हैं लेकिन यदि भक्त सच्चे मन से उन्हें पुकारता है तो उस संकट को दूर भी करती हैं. यहां अनिता तुलस्यान, पुष्पा देवी, उषा बागला, सोनी तुलस्यान, सुमन तुलस्यान, सीमा तुलस्यान सहित अन्य श्रद्धालु शामिल थे।