महज़ चुनावी एजेंडा बनकर रह गया दादुपुर सड़क!

बेगूसराय: दियारा क्षेत्र के पांच पंचायतों में रहने वाले हजारों की आबादी को सीधे प्रखंड मुख्यालय एवं एनएच 28 से जोड़ने वाली एक मात्र सड़क के हाल राहगीरों को भुगतना पड़ रहा है। सड़क के जर्जरता के कारण उक्त सड़क पर अक्सर हादसा होने की खबरें मिलती हीं रहती है। इस मार्ग से होकर गुजरने वाले राहगीरों की दुर्दशा के किस्से सुनाते हुए रूपसवाज दियारा निवासी कमलेश यादव नें बताया कि निर्माण एजेंसी के ब्लैक लिस्टेड होने के कारण एक तो दादुपुर पुल का निर्माण कार्य अधर में लटका पड़ा है। वहीं उक्त सड़क की जर्जरता का आलम यह है कि नित्य प्रतिदिन कोई न कोई हादसा होना आम बात सी हो गई है। ग्रामीणों नें कहा कि दादुपुर, बिशनपुर, चमथा एक, चमथा दो व चमथा तीन पंचायत को बछवाड़ा जंक्शन, प्रखंड मुख्यालय, एन एच २८ व बछवाड़ा बाजार हेतु आवागमन का एक मात्र साधन है। उक्त सड़क से दियारा हीं नहीं बल्कि भीठा क्षेत्र के सैकड़ों किसानों का भी एक मात्र जरिया है। पंचायत के मुखिया गीता शर्मा नें बताया कि दादुपुर पुल से मेन रोड के बीच के एक किलोमीटर का सफर की सोचने मात्र से हीं रोंगटे खड़े हो जाते हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह भी जब अपने चुनावी जनसंपर्क हेतु दियारा आए थे तो उक्त सड़क को अविलंब दुरुस्त करने की घोषणा की थी। मगर एक वर्ष से अधिक गुजरने के बाद भी सड़क निर्माण तो दूर सांसद महोदय दियारा वासियों का हाल चाल जानना भी मुनासिब नहीं समझा।