मकान निर्माण में लगे मजदुर को लगा करंट, छत से गिरकर हुई मौत!

PATNA(अजित यादव): फुलवारी शरीफ के आदर्श नगर कॉलोनी में निर्माणाधीन मकान  मैं बिजली प्रभावित तार की चपेट में आकर एक बाईस साल के मजदुर की करंट लगने से निचे गिरकर मौत हो गयी | मजदुर की लाश लेकर परिजन और अन्य मजदुर काफी देर तक मकान के पास लाश के साथ मुआवजे की मांग और मकान मालिक व ठेकेदार के खिलाफ करवाई करने की मांग करते थे लेकिन मौके पर पहुंचे पुलिस पदाधिकारी ने समझा बुझाकर मामला शांत करा दिया | रोते बिलखते परिजन मजदुर की लाश लेकर वैशाली के गोरौल प्रखंड स्थित अपने गाँव महमदपुर चले गये | थानेदार रफिकुर रहमान ने कहा की मकान मालिक और ठेकेदार के खिलाफ विध्सम्म्त करवाई कराकर मजदुर परिवार को उचित मुआवजा दिलाया जाएगा | मृतक रमेश कुमार तीन भाइयो में दुसरे नम्बर पर था | उसकी मौत की खबर के बाद गाँव में पत्नी माँ सुनीता देवी , पिता जगन सिंह सहित अन्य परिजन दहाड़ मार चीत्कार उठे | मृतक के भाई दिनेश ने बताया की दोनों भाई पटना में रहकर मजदूरी करके परिवार का भरन पोषण करते थे अब किसके सहारे पटना में कमाएंगे इतना कहते हुए भाई के लाश के पास विल्खने लगता है.

फुलवारी शरीफ के आदर्श नगर में साधू साव के निर्मानाधीन मकान में वैशाली के रमेश कुमार बतौर मजदुर दो माह से काम कर रहा था |रविवार को काम के दौरान ही छत के उपर से गुजर रहा करंट प्रावाहित तार की चपेट में आकर मजदूर  22 वर्षीय रमेश कुमार छत से निचे गिर गया | मजदुर के छत से निचे गिरने के बाद वहां काम कर रहे दुसरे मजदूरो में हडकम्प मच गया | आनन फानन मजदूरो और रमेश के भाई उसे लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ले गये जहा से उसे बेहतर इलाज के लिए पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया जहाँ उसकी इलाज के दौरान सोमवार को मौत हो गयी | मृतक मजदुर रमेश के बड़ा भाई  दिनेश कुमार ने बताया कि हम दोनों भाई साधु साव का  मकान निर्माण हो रहा था उसी में काम कर रहे थे |  मकान के ऊपर बिजली प्रभावित तार गुजर रहा था उसी की चपेट में आने से मेरे भाई रमेश की मौत हो गई  | दिनेश ने बताया कि कि मकान मालिक का लापरवाही की वजह से यह हादसा पेश आया है क्योंकि वह कई बार मकान मालिक से कहा गया था कि तार को अलग शिफ्ट कर दें लेकिन खोजा इमली का ठेकेदार मनोज राम और मकान मालिक ने इस ओर ध्यान नही दिया | मंगलवार को पोस्टमार्टम के बाद मजदुर की लाश लेकर परिजन और अन्य मजदुर निर्माणाधीन मकान के पास पहुंचे और मुआवजे व कारवाई की मांग करते हुए हो हंगामा करने लगे | मकान मालिक व ठेकेदार का कही कोई अता पता नही था लेकिन सुचना मिलने पर फुलवारी शरीफ थाना पुलिस पहंची और लोगों को शांत कराया।