पुलिस ने 625 किलो पोस्त व 40 हजार नशीली गोलियों सहित ड्राईवर कंडक्टर को काबू किया!

अबोहर(शर्मा जी): पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने जब से मुख्यमंत्री का पद संभाला है उन्होंने पंजाब को नशामुक्त करने का प्रण लिया था। उन्होंने पंजाब के डीजेपी दिनकर गुप्ता के साथ मीटिंग का पंजाब को नशामुक्त करनेक ा अभियान चलाया था। फाजिल्का के डीआईजी हरदयाल सिंह मान, एसएसपी हरजीत सिंह, डीएसपी अबोहर राहुल भारद्वाज, डीएसपी बल्लुआना देहाती अवतार सिंह द्वारा जिले को नशामुक्त करने के लिए अभियान चला रखा है। उनके दिशा निर्देशों का पालन करते हुए थाना खुईयांसरवर के प्रभारी रमन कुमार, चौकी पटीसदीक प्रभारी प्रगट सिंह दौराने गश्त गांव उस्मानखेड़ा की तरफ जा रहे थे कि इतने में सामने से एक घोड़ा ट्राला आरजे 07-जीबी-0591 राजस्थान की ओर से आता दिखाई दिया। शक के आधार पर ट्राले को रोककर तलाशी ली तो ट्राले में से 6 क्विंटल 25 किलो चूरा पोस्त बरामद हुआ जबकि 40 नशीली गोलिया कोविल 100-एसआर बरामद हुई। पकड़े गए आरोपियों की पहचान लखविंद्र सिंह उर्फ लक्कखा पुत्र लाभसिंह वासी मानावाली जिला श्री मुक्तसर साहिब, गुरमीत सिंह उर्फ मत्ता पुत्र अमरीक सिंह वासी गांव वादियां जिला श्रीमुक्तसरसाहिब के रूप में हुई। दोनों आरोपियों के खिलाफ थाना खुईयांसरवर पुलिस ने मुकदमा नं. 155, 23.10.2020 एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। दोनों आरोपियों को आज अदालत में पेश किया गया जहां से उन्हें तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। फाजिल्का के एसएसपी हरजीत सिंह ने बताया कि हमारी पुलिस पार्टी द्वारा स्टेट नाकों पर नाकाबंदी जारी है। पंजाब में नशा लाने वाले किसी भी तस्कर को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने बताया कि फाजिल्का पुलिस ने इससे पहले नशा तस्करों पर अंकुश लगाने में काफी सफलता हासिल की है।