पुलिस की गिरफ्त से छीन कर नेता को ले भागे कार्यकर्त्ता

बछवाड़ा( राकेश यादव ) :विधायक पुत्र के घोषित कार्यक्रम के बावजूद आचार संहिता के उलंघन के मामले में नेता जी को गिरफ्तार करने गयी पुलिस को कार्यकर्ताओं के सामने मुंह की खानी पड़ी। बताते चलें कि प्रखंड क्षेत्र के रानी एक पंचायत स्थित बछवाड़ा बाजार में गुरूवार की दोपहर दिगम्वत विधायक रामदेव राय का पुत्र शिव प्रकाश उर्फ गरीब दास नें जब काफिले के साथ पहुंचे तो बछवाड़ा थाना के एसआई अरविंद कुमार सुमन, एसआई आनंदी सिंह समेत दर्जनों पुलिस बल नें उनके पुत्र को पकड़ने की कोशिश की। किन्तु उनके समर्थको ने पुलिस स्कार्पियो से उतार कर बाइक से लेकर दिगम्बत विधायक के पुत्र को लेकर भाग गये। बछवाड़ा बाजार में पुलिस और समर्थको के बीच कुछ देर तक नोक झोक होते रहा, हंगामा बढ़ते देख पुलिस ने अतिरिक्त पुलिस बल बुलाने की मांग की। मामले को लेकर थानाध्यक्ष अजीत कुमार ने बताया कि शिव प्रकाश गरीब दास के विरुद्ध बछवाड़ा थाना में बिना अनुमति के काफिला निकाले जाने व कोविड 19 का उलंघन करने, बछवाड़ा इलाके के आस पास में जुलुस निकालने के मामले में अंचलाधिकारी नेहा कुमारी ने बछवाड़ा थाना में अचार संहिता उलंघन करने के मामले में एक नामजद समेत चार सौ लोगो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। विरोधी दलों के नेताओं नें बताया कि पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया के माध्यम से उक्त रैली निकाले जाने का प्रचार प्रसार किया जा रहा था। बावजूद इसके बछवाड़ा प्रशासन व पुलिस नें उक्त नेता को ढील देते हुए किसी प्रकार की कोई तैयारी नहीं की। बछवाड़ा बाजार में महज़ एक औपचारिकता पूरी करते हुए उक्त नेता को गिरफ्तार करने का दिखावा किया गया है। आदर्श आचार संहिता के पालन को लेकर बछवाड़ा पुलिस प्रशासन अगर संवेदनशील होते तो अतिरिक्त पुलिस बल की व्यवस्था कर रैली व रोड शो को रोकने व गिरफ्तार करने जाती। मगर बछवाड़ा पुलिस आदर्श आचार संहिता को लेकर तनिक भी संवेदनशील नहीं है। उक्त नेता को अप्रत्यक्ष रूप से मदद करते हुए नियम-कानून के पालन की औपचारिकता निभाई गई है।