पटना के सिपारा सत्तर फिट इलाके में तेल पाइप में लीकेज से हजारों लीटर डीजल बर्बाद!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): एल एंड टी कम्पनी द्वारा नमामि गंगे प्रोजेक्ट में सीवरेज का चल रहा काम मे लापरवाही से इंडियन ऑयल को बड़ा नुकसान हो गया। पटना के सिपारा इंडियन ऑयल डिपो से नजदीक सत्तर फिट रोड के बगल में गुजर रहे तेल पॉईल लाइन में छेद हो गया। एल एंड टी द्वारा काम कर रहे कर्मियों की लापरवाही से तेल पाइप लाइन में छेद होते ही डीजल की धार फुट पड़ी औऱ देखते ही देखते करीब छः सौ एरिया में डीजल फैलकर बहने लगा। इसकी जानकारी जब ग्रामीणों को मिली तो डीजल लूटने की होड़ लग गयी। सुबह पांच बजे के आसपास हुई घटना के बाद दो घंटे तक डीजल लूटा जाता रहा ।इस लीकेज से आईओसी को लाखों के नुकसान की खबर है । कितना डीजल बहकर बर्बाद हुआ है और कितना का नुकसान आईओसी को हुआ है इसका अधिकारी आकलन करने में जुटे है। उधर तेल पाइप लाइन में छेद होने के बाद बजे अलार्म से तेल डिपो अधिकारीयो में हड़कम्प मच गया। स्थानीय बेउर थाना पुलिस के साथ इंडियन ऑयल अधिकारी आनन फानन मौके पर पहुंचे और कर्मियों की मदद से डीजल बहते एरिया की घेराबंदी कराई । इसके बाद जहाँ पाइप में छेद हुआ था उसे इंडियन ऑयल के टेक्निकल सेल की टीम ने ढूंढ निकाला और उसकी मरम्मत शुरू की। इस बारे में इंडियन ऑयल सिपारा के स्टेशन मैनेजर अभय किशोर ने बताया कि सुबह 5 बजकर 35 मिनट पर सूचना मिलते ही पाइप लाइन मरम्मत का काम शुरू कर दिया गया। कितना का नुकसान हुआ है इसका आकलन करने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। सीवरेज का काम करा रहे कम्पनी ने तेल पाइप लाइन के नजदीक खुदाई के पहले आईओसी को बगैर सूचना दिए ही रात में काम करा रहे थे । इस संबंध में उचित करवाई के लिए मामला दर्ज कराया जाएगा।