नगरा गोलीकांड: पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी और उपनिरीक्षक को किया लाइन हाजिर!

नगरा(न्यूज़ क्राइम 24): शनिवार को कारोबारी की हत्या और बसपा विधायक के आरोपो को गम्भीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी और एक उपनिरीक्षक को लाइन हाजिर कर दिया है. पुलिस अधीक्षक की कार्यवाही से पुलिस महकमे में खलबली मची हुई है. नगरा गड़वार मार्ग पर शनिवार की सुबह सरयाँ बगड़ौरा निवासी 50 वर्षीय हीरामन यादव को बाइक सवार बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी. हत्या की खबर फैलते ही घटनास्थल पर हजारों की भीड़ जुट गई. घटना से आक्रोशित भीड़ सड़क पर शव के साथ जाम लगा दी.

घटनास्थल पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक के आश्वासन पर ग्रामीणों ने जाम समाप्त कर दिया ,वही शिकायत किया कि मृतक थाने पर दो बार हत्या की आशंका का प्रार्थना पत्र दिया था किंतु पुलिस पर कोई असर नहीं हुआ. उधर घटना की जानकारी होने पर क्षेत्रीय बसपा विधायक उमाशंकर सिंह भी पहुंच गए। तल्ख तेवर में विधायक ने नगरा पुलिस की शिकायत पुलिस अधीक्षक से की । विधायक के आरोपो से पुलिस तिलमिला गई ।

बसपा विधायक ने थाने पर मीडिया से खुले तौर पर नगरा पुलिस की अवैध वसूली का आरोप लगाया ।थाना क्षेत्र में बढ़ते अपराध का ग्राफ और अवैध वसूली के आरोप के जन आक्रोश को देखते हुए पुलिस अधीक्षक देवेंद्र नाथ ने थाना प्रभारी यादवेंद्र पांडे और उप निरीक्षक अखिलेश यादव को लाइन हाजिर कर दिया है. जिससे पुलिस महकमे में खलबली मची हुई है।