दीपावली को लेकर स्वास्थ्य विभाग एलर्ट, डॉक्टर सहित स्वास्थ्य कर्मी की छुट्टी रद्द!

जमुई(मो० अंजुम आलम): 14 नवंबर यानि शनिवार को दीपावली पर्व पूरे धूमधाम से मनाया जाएगा। इस दौरान बच्चों में आतिशबाजी भी होना लाजमी है। खुशियों का यह त्योहार मुसीबत में ना बदल जाए। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग पहले से ही एलर्ट मोड में है।जानकारी देते हुए सिविल सर्जन डा. विजयेंद्र सत्यार्थी ने बताया कि सदर अस्पताल उपाधीक्षक, स्वास्थ प्रबंधक सहित जिले के सभी सरकारी अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि वे दीपावली में आतिशबाजी को लेकर होने वाले परेशानी के प्रति सजग रहें। सभी अस्पताल में आवश्यकता के अनुसार दवा का भंडारण कर लिया गया है।

खासकर आतिशबाजी के दौरान बच्चों में जलने की शिकायत को लेकर अधिक व्यवस्था किया गया है। इसे लेकर अस्पताल में एक बर्नवार्ड भी पूर्व से संचालित है। उन्होंने बताया कि इस बार की दिवाली कोविड-19 निर्देश के तहत होना है। लोग हर हाल में इसका ख्याल रखें। बच्चों को कम से कम आतिशबाजी का प्रयोग करने दें। वह भी अपनी देखरेख में करावे, तेज एवं पर्यावरण बिगाड़ने को लेकर बनाए गए पटाखों से दूर रहें।

आंख, हाथ, पैर सहित शरीर के अन्य खुले भागों को आग से दूर रखें। कई पटाखा दूर से भी हमें नुकसान पहुंचाती है, इसका भी खास ख्याल रखें। उन्होंने बताया कि खुशियों का यह त्योहार लोगों में खुशियां भरा हो। इसे लेकर अस्पताल की व्यवस्था को दुरुस्त करते हुए चिकित्सक सहित सभी स्वास्थ्य कर्मी की छुट्टी रद्द कर दिया गया है।