दिनदहाड़े अपराधियों नें वाहन में लगायी आग!

बछवाड़ा(राकेश यादव): अपराधियों का मनोबल इतना चरम पर है कि दिनदहाड़े वाहन मालिक को किराए की बात के बहाने अपहरण कर धमकी देते हुए दरवाजे पर खड़ी गाड़ी भी मंगवा लेता है। वाहन मालिक के साथ लूट पाट व मारपीट भी कर लेते हैं। दिन दहाड़े दो वाहनों में आग भी लगा दी जाती है। बावजूद इसके पुलिस को घटना के बारे में कोई अता-पता नहीं है। मज़े की बात तो यह है कि उक्त घटना को लेकर महज़ एक अदद एफआईआर के लिए भी पीड़ित को दर-दर भटकना पड़ रहा है। बताते चलें कि लगभग दो हफ्ते पुर्व ३० अगस्त को नवादा सीमापर निवासी वाहन मालिक रुपक पासवान के मोबाइल पर गाड़ी भाड़े की बात को लेकर पिढौली नयाटोल निवासी पप्पू कुंवर के पुत्र नेपो उर्फ दिलखुश कुंवर का फोन आया। वाहन मालिक ने बताया कि फोन करने वाले युवक नें गाड़ी भाड़े की बात करने हेतु वाहन मालिक को दरगाहपुर चौक पर बुलाया। तत्पश्चात अपराधियों नें दिनदहाड़े हथियार लहराते हुए उक्त वाहन मालिक को गंगा वाया नदी किनारे ले गया। जहां मारपीट करते हुए गोली मारने की धमकी देकर अल्टो कार मंगवाने को कहा। बेवश युवक नें अपने घर फोन कर कहा कि एक लड़का जा रहा है अल्टो की चाभी दे देना। तभी फ़ौरन दो अपराधी मेरे हीं बाईक से मेरे घर के लिए रवाना हुए, और कुछ देर बाद कार लेकर नदी किनारे आ पहुंचा। इस बीच अपराधियों नें वाहन मालिक के जेब के सारे रूपए व अन्य सामान छीन लिया। बेरहमी से मारपीट के कारण वाहन मालिक वहां अधमरा पड़ा रहा और अपराधियों की टोली के बीच शराब का दौर चलने लगा। इसी बीच मौके का फायदा उठाकर वाहन मालिक वहां से भाग खड़ा हुआ। तत्पश्चात किसी तरह घर पहुंच कर सारी आपबीती बताई। वहीं परिजनों नें उक्त घायल युवक को निजी अस्पताल में भर्ती कराया। इलाज के बाद जब वाहन मालिक बछवाड़ा थाने जाकर लिखित आवेदन दिया तो , वहां की पुलिस नें मामला तेघरा थाना क्षेत्र के होने की बात बता बैरंग वापस लौटा दिया। अब पिछले दो हफ्ते से पीड़ित बछवाड़ा व तेघरा थाना का चक्कर लगा रहा है। इसी बीच बुधवार को अपराधियों नें गोदना गांव के समीप एन एच २८ पर लाकर अल्टो कार में आग लगा दी है।