दहेज दानव लोभियों ने शादीसुदा युवती का किया गला दबाकर हत्या!

पटना(अजित यादव): पटना जिले के पालीगंज अनुमंडल के सिगोड़ी थाने क्षेत्र के खराटी गांव के बाधार से पुलिस ने एक शादीशुदा युवती का शव बरामद किया है। युवती के परिजनो ने ससुराल वालों पर 10 लाख रुपए और एक बुलेट मोटर साइकिल दहेज मे नही देने पर ससुराल वालो पर हत्या करने का आरोप पुलिस लगाया है। पुलिस इस मामले की जाँच मे जुटि है. जानकारी के अनुसार विवाहिता युवती धनरूआ थाना क्षेत्र के डुमरा पुल गांव की रहने वाली है जो कि अपने पालीगंज थाना क्षेत्र के सिगोड़ी गांव के खराटी में अपनी मौसी के यहां रहकर फिलहाल सिलाई सीखने का काम करती थी इसी दौरान वह कल सुबह सिलाई सीखने के लिए घर से निकली थी जो कि देर शाम तक घर नहीं लौटने पर परिजनों ने उसकी खोजबीन शुरू की लेकिन देर रात तक कहीं कोई अता पता नहीं चला। जिसकी अहले सुबह आज गांव के बधार से शव बरामद हुआ। परिजनों ने इस घटना की सूचना पुलिस को दिया पुलिस मौके पर पहुंचकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए शव को अनुमंडल अस्पताल पालीगंज भेज दिया.

वही युवती के परिजनों को इस घटना की सूचना के बाद घटनास्थल पर पहुंचकर मीडिया कर्मियों से बताया कि वह अपने बच्ची 23 वर्षीय रविता कुमारी शादी 4 साल पूर्व धनरूआ थाना के चक महाबली गांव में अपनी शक्ति अनुरूप दान दहेज देकर धूमधाम से शादी किया था । लेकिन दहेज लोभी दानवो मायके वालों ने शादी के कुछ ही दिन बाद से ही उसे और दहेज के लिए प्रताड़ित और मारपीट करना शुरु कर दिया । इस बीच दहेज के रूप में 3 कट्ठा जमीन दिया गया। लेकिन इसके बावजूद भी दहेज लोभियों की पेट नहीं भरा लगातार और दहेज की मांग करते रहे , वे लोग 10 लाख रुपए और एक बुलेट मोटरसाइकिल की फिलहाल मांग रहे थे जिसको नहीं देने पर उसके पति सोनू कुमार ने अपने बहनोई और अन्य कई साथियों के साथ मिलकर सिलाई करने जा रही युवती को बीच रास्ते से अपहरण कर गला दबाकर हत्या कर दिया ।
युवती के पिता महेश प्रसाद ने अपने लिखित मे पति सोनू कुमार और उसके बहनोई समेत अन्य कई ससुराल को नामजद अभियुक्त बनाते हुए थाने मे प्राथमिकी दर्ज करवाया है। वहीं पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है।