जिलाधिकारी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी पदाधिकारी से समीक्षा किए

समस्तीपुर(रमेश शंकर झा): जिले के समाहरणालय परिसर स्थित भीसी कक्ष में जिलाधिकारी शशांक शुभंकर के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, पीएचसी प्रभारी, ब्लॉक हेल्थ मैनेजर बीएचएम एवं सभी अनुमंडल पदाधिकारी को पूर्व (23.03.20) में दिए गए Covid19 के संक्रमण के रोकथाम हेतु आदेश पर किए गए कार्यों की समीक्षा की और दिशा निर्देश दिए। वहीँ 23/03/2020 को 6 कोषांग का गठन किया गया था, उसकी भी समीक्षा की गई। इस भीसी (VC) कक्ष में सिविल सर्जन, अपर समाहर्ता, उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता लोक शिकायत, अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी समस्तीपुर एवं दलसिंहसराय, अनुमंडल पदाधिकारी, अपर अनुमंडल पदाधिकारी, नजारत उप समाहर्ता, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारी एवं अन्य लोग उपस्थित थे। जिलाधिकारी शशांक शुभंकर ने सभी पीएचसी प्रभारी एवं ब्लॉक हेल्थ मैनेजर को हेल्पलाइन नंबर पर चौबीसों घंटे सजग एवं सक्रिय रहने का निर्देश दिया है। ताकि Covid19 जैसे संक्रमण से संबंधित सूचना प्राप्त हो, बिना समय व्यर्थ किए रशिंग टीम उस स्थान पर पहुंच सकें। वहीँ पीएचसी प्रभारी एवं ब्लॉक हेल्थ मैनेजर के नंबर स्विच ऑफ आने की शिकायत जिलाधिकारी को मिली है। इस पर जिलाधिकारी ने सभी पीएचसी एवं बीएचएम को चेतावनी दी है। पीएचसी एवं बीएचएम के अनुपस्थित रहने पर उन पर इस एक्ट के तहत एफ आई आर किया जाएगा।
क्वॉरेंटाइन कोषांग में पंचायत स्तर पर सभी अटैच शिक्षकों की सूची की मांग की गई है और इसे जिला शिक्षा पदाधिकारी से साझा कर अनुपालन करने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया। वहीँ पंचायत स्तर पर कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए नियुक्त नोडल पदाधिकारी का डिटेल जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी से मांग की है। क्वॉरेंटाइन कोषांग के प्रभारी पदाधिकारी को चयनित आइसोलेशन वार्ड स्थल की जांच करने का निर्देश दिया गया है। प्रभारी पदाधिकारी जांच के दौरान बेड, टॉयलेट, साफ सफाई एवं वेंटिलेशन की सुविधा पर विशेष ध्यान देंगे। वहीँ प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचल अधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी को शक्ति से लॉकडाउन इंफोर्स कराने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया. दुकानों एवं मंडियों में अनाज, राशन, मास्क, सैनिटाइजर के होल्डिंग ब्लैक मार्केटिंग स्टॉकिंग से संबंधित सूचना एमओ (MO) को दे सकते हैं। इसके लिए जिला आपूर्ति पदाधिकारी के अंतर्गत एक विशेष टास्क फोर्स का गठन किया गया है। सिविल सर्जन ने भीसी (VC) के दौरान सिंप्टोमेटिक, एसिंप्टोमेटिक, क्वॉरेंटाइन, होम आइसोलेशन, सैनिटाइजिंग, सैनिटाइजर के अलावा घर आदि को सैनिटाइज करने की प्रक्रिया एवं अन्य से संबंधित बिंदुओं को समझाया। नगर स्थित परिसरों में साफ सफाई हेतु fumigation मशीन एवं अन्य मशीनों पर विचार विमर्श किया गया। यह सारी जानकारी जिला जनसंपर्क पदाधिकारी के व्हाट्सएप के द्वारा प्रेस को मिला।