जब्त बस छोड़ने की मांग को लेकर यात्रियों ने एसपी आवास का किया घेराव

जमुई(मो.अंजुम आलम): विधानसभा चुनाव को लेकर शहर के झाझा बस स्टैंड स्थितियों पटना जाने के लिए बस पर बैठे यात्रियों को एमवीआई की टीम ने उतार कर बस को जब्त कर लिया। इस दौरान यात्रियों व बस मलिकों ने कुछ देर की मोहलत मांगी लेकिन एमवीआई ने एक न सुनी और बस पर बैठे सभी यात्रियों को उतार कर बस को जब्त कर लिया। जिससे आक्रोशित यात्री एसपी आवास पहुंच गए और पटना भेजने की गुहार लगाने लगे। उसके बाद यात्रियों से मिलने डीएसपी लाल बाबू यादव मौके पर पहुंचे और यात्रियों को समझाने लगे उन्होंने यात्रियों से कहा कि डीटीओ के द्वारा बस जब्त किया गया है जो हमारे क्षेत्र से बाहर है। उसके बाद यात्री मायूस होकर लौट गए। नतीजतन कई यात्री अपने गंतव्य स्थान पर नहीं पहुंच पाए। अधिकांश यात्रीयों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

पटना जाने के लिए बस की आस में यात्री घंटों इधर-उधर भटकते रहे। बता दें कि यात्रियों में कोई पटना तो कोई दिल्ली के भी यात्री शामिल थे। कोई इलाज करवाने तो कोई परीक्षा देने जा रहे थे।यात्रियों ने बताया कि एमवीआई द्वारा मनमाने तरीके से बैठे यात्रियों को उतार दिया गया। सभी लोग पैसा पेड कर बस में बैठे थे। दो घंटे बाद भी बस को जब्त किया जा सकता था। जबकि बस मालिक द्वारा एक घंटे में बस देने की बात कही गई थी। हालांकि बस मालिक और एमवीआई के बीच काफी देर तक बहस हुई लेकिन एमवीआई भी अड़े रहे। बस मालिक ने बताया कि दूसरा बस लेकर देने के लिए एक घंटा की मोहलत मांगी गई थी यात्रियों द्वारा भी आरजू मिन्नत की गई लेकिन इसका कुछ असर नहीं हुआ। जिस वजह से यात्री पटना जाने की आस लिए जमुई में ही रह गए।