छिनतई गिरोह का किया भंडाफोड़, एक को किया गिरफ्तार!

सिमडेगा(न्यूज़ क्राइम 24): सिमडेगा पुलिस ने अंतरराज्यीय छिनताई गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार किया।सिमडेगा एसपी डॉ शम्स तबरेज ने प्रेस कांफ्रेंस आयोजित करते हुए बताया कि पिछले 22 अक्टूबर को एक वृद्ध महिला से ₹80000 सहित तीन पासबुक वोटर आईडी पैन कार्ड एवं दर्जनों फोटोग्राफ की लूटमार की गई थी ।इस मामले में एसपी के मार्गदर्शन पर तीन छापेमारी दल का गठन किया गया था एक छापेमारी दल स्थानीय स्तर पर लगातार छापेमारी की एवं स्थानीय सक्रिय अपराध कर्मियों की कुंडली को खंगाली। प्राप्त सूचना के आधार पर दूसरा छापामारी दल छत्तीसगढ़ भेजा गया जहां पर नट संगठन छिनतई गिरोह की संलिप्तता के संदेह पर पुलिस अधीक्षक जसपुर एवं स्थानीय पुलिस पदाधिकारी के साथ सघन छापेमारी की गई। तीसरी छापेमारी दल छिनतई गिरोह की संलिप्तता के बिंदु पर पुलिस अधीक्षक सरगुजा के सहयोग से स्थानीय पुलिस पदाधिकारी एवं सरगुजा एवं अंबिकापुर में छापेमारी की ।इसी बीच इस घटना में शामिल कालेश्वर चौहान उर्फ सतीश लैलूंगा छत्तीसगढ़ निवासी को गिरफ्तार किया। इस छापेमारी दल का नेतृत्व पुलिस निरीक्षक दयानंद कुमार ने किया ।जिसमें कांड का उद्भेदन हुआ और साथ ही इस गिरोह का भंडाफोड़ हुआ ।घटना में शामिल अपराधियों में से एक पकड़ा गया जिसके पास से ₹29700 एवं सभी कागजात बरामद की गई। एसपी ने कहा जल्द औऱ अपराधी की गिरफ्तारी होगी।जिसकी तलाश अभी भी जारी है ।इसके लिए हमारी टीम काम कर रही है सभी जल्द ही कानून के सलाखों के पीछे होगा। उन्होंने बताया इसके साथ ही लूट में शामिल मोटरसाइकिल को भी जप्त कर लिया गया है। छापेमारी दल में मुख्य रूप से थाना प्रभारी रविंद्र प्रसाद सिंह ,अंचल निरीक्षक दयानंद कुमार ,जेएसआई सुफल स्वासी, पीएसआई विष्णु गोस्वामी ,अमित राय, कुमार इंद्रेश ,मनीष कुमार राय ,अक्षय कुमार ,सर्वजीत कुमार ,सुधीर बाड़ा एवं एएसआई मनोज कुमार दुबे एसआई दुर्योधन उरांव शामिल थे।