छठ घाट पर कोयला कारोबारी की गोली मारकर हत्या

झारखण्ड(न्यूज़ क्राइम24): बड़ी खबर हैचतरा
जहां छठ घाट पर दिखा नक्सलियों का तांडव।राज्य सरकार और पुलिस को चुनोती देते हुए।भारी भीड़ में छठ घाट पर नक्सली ने कोयला कारोबारी को गोली मारकर हत्या कर दिया. यह घटना शनिवार की सुबह जिले के सिमरिया क्षेत्र के तपसा गांव में हुई है. नक्सलियों ने कोयला कारोबारी मुकेश गिरि को छठ घाट पर गोली मारी कर हत्‍या कर दी है. घटना शनिवार की सुबह सात बजे के करीब की है. मुकेश गिरी को दो गोली लगी है. गोली मारने के बाद उसे सिमरिया रेफरल अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद रिम्स रेफर कर दिया गया है।राँची आने के क्रम में मौत हो गई है।

घटनास्थल पर नक्सलियों ने दो पर्चा छोड़ कर लिया जिम्मेवारी-

नक्सलियों ने मुकेश गिरी की हत्या करने के बाद पर्चा छोड़कर घटना का जिम्मेवारी लिया है. नक्सलियों ने मुकेश गिरी पर पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाया है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर मामले की छानबीन में जुटी हुई है. पुलिस ने घटना स्थल से तीन खोखा और दो हस्तलिखित पर्चा बरामद किया है.

बाइक पर सवार होकर आए थे नक्सली-

बताया जा रहा है कि अर्घ्य देने के लिए सुबह घाट पर भारी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।अर्घ्य देने का कार्यक्रम चल रहा था. इसी क्रम में एक के बाद एक तीन गोली की आवाज आई. जब तक कुछ समझ पाते, तब तक तीन मोटरसाइकिल पर सवार नक्सली भाकपा माओवादी जिंदाबाद जिंदाबाद का नारा लगाते भाग निकले।

छठ घाट पर हुई हत्या से राज्य सरकार की कानून व्यवस्था की पोल खुल गई है।वहीं इस हत्या से लोगों में भारी आक्रोश है।पत्थलगड़ा थाना क्षेत्र स्थित सिनपुर डैम में माओवादियों ने सुबह एक कोयला कारोबारी को गोली मारकर जख्मी कर दिया। वारदात अर्घ्य देने के दौरान हुई। इस बीच पूरे छठ घाट पर अफरातफरी मच गई। घटना की सूचना मिलते हैं सिमरिया एसडीपीओ बचन देव कुजूर, पत्थलगड़ा थाना प्रभारी निरंजन रटकुमार मिश्रा व अन्य घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस को घटनास्थल से इंसास की तीन गोली के खोखे और माओवादी पर्चा मिला है। घटना की जिम्मेदारी भाकपा माओवादियों ने ली है।