चोरों ने शराब दुकान को बनाया निशाना, बड़ी संख्या में ले गए व्हिस्की और बीयर की बोतल

घनबाद(न्यूज़ क्राइम24): सिंदरी दीपावली की रात जब हर कोई अपने-अपने घरों को दीये से रोशन करने में जुटे थे तो सिंदरी में चोरों ने अपना काम जारी रखा। नेहरू मैदान स्थित एक सरकारी शराब दुकान समेत प्रज्ञा केंद्र और फर्नीचर दुकान को निशाना बनाया। शराब दुकान में चोर प्रवेश कर गए। गल्ले में रखे नकद 16 हजार रुपये निकाल लिए। इसके बाद बड़ी संख्या व्हिस्की और बीयर की बोतल लेकर चलते बने। चोरी की सूचना मिलने के बाद रविवार सुबह सिंदरी थाना के इंस्पेक्टर राज कपूर ने पहुंचकर मामले की जांच की।

चोरों ने नेहरु मैदान के बगल में स्थित अंग्रेजी शराब की दुकान, प्रज्ञा केंद्र और फर्नीचर की दुकान को निशाना बनाया। शराब की दुकान की छत में लगे एस्बेस्टस सीट को तोड़कर चोरों ने गल्ले में रखे 16 हजार नकद सहित 19 हजार रुपये की व्हिस्की और बियर लेकर चलते बने। सुबह दुकान खोलने के लिए कर्मी के पहुंचने पर चोरी का पता चला। सूचना पाकर सिंदरी थाना प्रभारी राजकपूर पुलिस के साथ पहुंचे। दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को देखकर चोरों का सुराग लगाने का प्रयास किया। चोरों ने प्रज्ञा केंद्र और उसके बगल में स्थित फर्नीचर की दुकान की छत का एस्बेस्टस सीट हटाकर चार हजार नकद, स्केनर, प्रिंटर्स और फर्नीचर दुकान से लकड़ी काटने वाली छोटी मशीन को लेकर चलते बने।

शहरपुरा बाजार में लगातार हो रही चोरी से दुकानदारों में भय व्याप्त है। पुलिस किसी भी चोरी का सुराग लगाने में अब तक विफल रही है। सिंदरी चैंबर आफ कामर्स के सचिव दीपक कुमार दीपू ने चोरी की बढ़ रही घटनाओं के लिए पुलिस को जिम्मेवार बताया। कहा कि पूर्व थाना प्रभारी अरविंद कुमार के प्रारंभिक कार्यकाल में शहरपुरा बाजार में लगातार चोरियां हो रही थी। चोरियों के कारण हो रही बदनामी को देखते हुए अरविंद कुमार ने रात्रि गश्ती बढ़ा दी और स्वयं नियमित गश्ती करने लगे। रात में बेवजह सड़कों और गलियों में घूमने वाले पुलिस के हत्थे चढ़ने लगे। देखते ही देखते अचानक चोरियां रुक गयी। वर्तमान समय में भी पुलिस गश्ती बढ़ाकर चोरी रोकी जा सकती है।