ग्राम रक्षा दल नें बिहार सरकार पर लगाया शोषण करने का आरोप!

बेगूसराय(राकेश यादव): प्रखंड मुख्यालय स्थित झमटिया ढ़ाला पर अपनी मांगो को लेकर ग्रामरक्षा दल के कार्यकर्ताओ ने मंगलवार को मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया. ग्रामरक्षा दल के कार्यकर्ताओ ने अर्धनग्न अवस्था में अपनी मांगो को लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. वही मुख्यमंत्री का पुतला को झमटिया ढ़ाला होते हुए झमटिया घाट और फिर झमटिया ढ़ाला स्थित एनएच 28 पर पुतला दहन किया गया. पुतला दहन के दौरान ग्राम रक्षा दल सह पुलिस मित्र के प्रदेश अध्यक्ष सिकंन्दर पासवान ने कहा कि हमलोग विगत 2012 से अपने अपने थाना क्षेत्र में थानाध्यक्ष के निर्देश पर संध्या प्रहरी, रात्री प्रहरी, जुआ बंदी, बाल विवाह समेत अन्य कार्यो में हमलोग सहयोग प्रदान करते रहे है. कार्य के दौरान हमलोगो को कमान भी दिया जाता है लेकिन आजतक हमलोगो को दैनिक भत्ता या दैनिक मजदुरी नही दिया जाता है. उन्होने कहा कि एक तरफ बिहार सरकार के द्वारा ये घोषणा किया जाता है कि हम बेरोजगारो को बेरोजगारी भत्ता दिया जाता है लेकिन हम पुरे बिहार में अरतीस से चालिस हजार ग्रामरक्षा दल के कर्मी वर्ष 2012 से हम बेरोजगार है विभाग द्वारा लाठी,वर्दी,टॉर्च दिया गया है लेकीन पेट में हमें अनाज नही मिल रहा है. जिस कारण हमारी व हमारे परिवार कि स्थिति दैनिय होती जा रही है. इसलिए आज हम सब अर्धनग्न अवस्था में सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि ससमय हमारी मांगे पुरी नही हुई तो हम आने वाले विधान सभा चुनाव में एकजुट होकर सरकार को सबक सिखाने का काम करेगे. वही ग्रामरक्षा दल के एक प्रतिनिधिमंडल ने अपनी मांगो को लेकर अंचलाधिकारी से मिलकर मांग पत्र सौपा. मौके पर जिलाध्यक्ष मो.रब्बान,संयोजक कैलाश साह, महामंत्री जितेन्द्र पासवान, प्रखंड अध्यक्ष अजय सहनी, मंत्री सज्जन पासवान, मिडिया प्रभारी संजय कुमार, शीत कुमार, राकेश, फुलेना, मोहन, रविन्द्र, भुल्लू, जितेन्द्र समेत अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।