गौरीचक में महिला की गला रेत हत्या, लाश नदी में फेंकी!

फुलवारीशरीफ(अजित यादव): पति से अलग कई वर्षों से मायके सम्पतचक में रह रही 35 वर्षीया महिला की अज्ञात अपराधियों ने दुष्कर्म के बाद गला रेतकर हत्या कर दी और लाश को कररूआ नदी में फेंक दिया । महिला की लाश गुरुवार की सुबह ग्रामीणों ने नदी किनारे मसाढी पुल के नीचे देखा तो पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी । मृतका की शिनाख्त धनरुआ थाना के वीर गांव निवासी संजीत पंडित की पत्नी मंजूषा देवी के रूप में होते ही परिजनों में कोहराम मच गया । मृतका कई सालों से अपने पति को छोड़ने के बाद मायके संपत चक के सोना गोपालपुर में रह रही थी । मृतका मंजूषा देवी सतीश पंडित की बेटी थी । हालांकि मायके वाले उसके पति संजीत पंडित पर ही हत्या करवाने का आरोप लगा रहे हैं । सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस जांच – पड़ताल में जुटी थी । नदी किनारे जिस जगह पर लाश मिली , उससे कुछ दूर पहले ही सड़क पर खून के धब्बे और खून सने महिला के चप्पल व मोबाइल भी मिला । इससे कुछ दूरी पर उसका पर्स और उसमें रखे कुछ कागजात और फोटो भी मिले है ।