खेत में काम कर रहे किसान को मारी गोली, पटना रेफर!

जमुई(मो० अंजुम आलम): वर्षों से सुर्खियों में रहा सदर थाना क्षेत्र का काकन गांव मंगलवार को फिर खूनी खेल की शुरुआत दो जातियों के बीच हो गई। हालांकि इस खेल में गोली लगने से घायल हुए जहरी महतो के 50 वर्षीय पुत्र चरित्र महतो बाल- बाल बच गए। जिसे चिकित्सक द्वारा पटना रेफर कर दिया गया। जबकि झगड़े के बीच-बचाव करने पहुंचा पुत्र राजेश कुमार भी जख्मी हो गया। बताया जाता है कि चरित्र महतो अपने पुत्र राजेश और राजू के साथ धान रोपने के लिए खेत की जुताई कर खेत पटवन के लिए गए थे। खेत पटवन के बाद चरित्र महतो खेत की जुताई के लिए टैक्टर लाने के लिए गए थे। तभी नीरज सिंह, रमेश सिंह, शुभम सिंह और संजीव सिंह के अलावा एक अज्ञात लोग खेत पर आया और राजेश कुमार के साथ गाली-गालौज करते हुए मारपीट करने लगा। इसी दौरान चरित्र महत्व जब खेत पर पहुंचे तो उन लोगों द्वारा चरित्र महत्व पर 2 राउंड गोली चला दी गई जिसमें एक गोली राजेश के हाथ की अंगुली को छूते हुए पार कर गई जबकि दूसरी गोली चरित्र महतो के कांधे पर लग गई. जिस वह घायल होकर जमीन पर गिर गया। इधर गोली की आवाज सुनते ही जब ग्रामीण पहुंचे तब तक सभी लोग फरार हो गए उसके बाद घायल को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनके गंभीर स्थिति को देखते हुए चिकित्सक द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद पटना रेफर कर दिया गया फिलहाल घायल की स्थिति नाजुक बनी हुई है। घायल के पुत्र राजू कुमार ने बताया कि उन लोगों से उनके पिता के साथ कोई दुश्मनी नहीं है। दो जाति के बीच वर्षों से चल रहे विवाद को लेकर गोलीबारी की गई है।