कोलकाता की मशहूर गायिका आदर्शी सिन्हा अपने कला की प्रस्तुति दिखाने जयनगर पहुंची

अररिया(रंजीत ठाकुर): भरगामा प्रखंड क्षेत्र के प्रख्यात जयनगर काली मंदिर में वर्ष 1659 से होने वाली 2020 के नवाह संकीर्तन में आठवीं रात्रि के संध्या अपने कला की प्रस्तुति दिखाने कोलकाता की आदर्शी सिन्हा अपनी सुरीली एवं धमाकेदार आवाज से हिन्दी भक्ति भजन सुना कर हजारों दर्शकों का मन भक्तिमय कर दिया।ऐसा कला की प्रस्तुति दिखाई की लोगों का भीड़ देर रात्रि तक खत्म होने का नाम ही नही ले रहा था।उनके गानों को सुनने के लिए अररिया जिला सहित पूर्णिया, कटिहार,. भागलपुर, सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, त्रिवेणीगंज, जिला सहित दूर-दराज से दर्शक आए हुए थे। इतना ही नही आठवीं रात्रि के संध्या जयनगर काली मंदिर में अपने भजन के माध्यम से मधेपुरा के प्रभात झा,मुजफ्फरपुर के प्रीतम चक्रधारी,त्रिवेणीगंज के धर्मेंद्र सिंह ने भी माता दरबार में एक से बढ़कर एक हिंदी भक्ति भजन गा कर अपना हाजरी लगाया.और इन सबों के भजन में चार चांद लगाने सहरसा के प्रसिद्ध म्यूजिशियन कीबोर्ड प्लेयर ब्रजेश सिंह,नाल वादक रत्नेश कुमार ने भी अपने टीमों के साथ महत्वपूर्ण भूमिका निभाया।और इन सबों का सहयोग करने के लिए पहली रात्रि के संध्या से ही अररिया जिला के मशहूर एंकर काली टोला जयनगर के अजय झा अपने एंकरिंग का जबरदस्त जलवा दिखाते नजर आए। इतना ही नही सुपौल के राजू सिंह साउंड सर्विस का तो जवाब ही नही रहा। उन्होंने माता दरबार में भव्य पंडाल बनाकर तथा माता के मंदिर को लाइट से सजाकर एवं नवाह संकीर्तन में अपने साउंड का लाजवाब प्रस्तुति देकर माता के मंदिर का रोनक ही अलग कर दिखाया। बताते चलें कि मंदिर के वर्तमान पंडित तारानंद झा ने नवाह संकीर्तन मंच से घोषणा करवाते हुए कहा कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष कोरोना महामारी के चलते प्रशासन द्वारा मेला लगाने की अनुमति नही दिया गया है। इसी कारण बस इस वर्ष मेला नही लगवाया जाएगा.मंदिर के सक्रिय सदस्य सागर झा,अनिकेत झा,गुलशन झा,सन्नित चौधरी,सानू झा,आलोक वत्स,ऋतिक झा,राहुल झा,मिक्की झा,सत्यम साह आदि ने बताया कि हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी मंदिर के पूजा में किसी प्रकार का कोई कमी नही रहेगा। पूजा पूरे विधि विधान एवं धर्म निष्ठा के साथ किया जाएगा.लेकिन हर वर्ष की भांति इस वर्ष भव्य मेला का आयोजन नही होगा।