कोरोना को लेकर अलर्ट मोड पर बेउर जेल, कैदियों को दूसरे जेल में किया जा रहा शिफ्ट!

पटना(अजीत यादव): कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने के बढ़ते खतरे को देखते हुए पटना के बेउर और फुलवारी जेल को अलर्ट मोड पर रखा गया है. कोरोना वायरस को लेकर जेल में सतर्कता बरती जा रही है और भीड़ को कम करने के लिए कैदियों को दूसरे जेल में शिफ्ट किया जा रहा है.2500 सौ की क्षमता वाले बेउर जेल में साढ़े चार हजार कैदियों को बंद करके रखा गया है। इसका सीधा असर जेल की सुरक्षा पर भी पड़ रहा है । जेल में बंद कैदियों के बीच भी इस महामारी को लेकर लगातार जागरुकता अभियान चलाए जा रहे हैं. उन्हें समय-समय पर हाथ करने, साफ रहने को कहा गया है. वहीं सर्दी-खांसी होने पर तुरंत इसकी सूचना जेल प्रशासन को देने को कहा गया है. वहीं बंदियों से मुलाकात करने के लिए कम से कम लोगों को आने की बात भी कही गई है.

जेल प्रशासन ने सुरक्षा के लिहाज से 300 कैदियों को फुलवारी जेल शिफ्ट करने का निर्णय लिया है।बेउर जेल अधीक्षक जवाहरलाल प्रभाकर ने बताया कि 25 दिन पहले ही सरकार ने बेउर जेल से बंदियों को फुलवारी जेल शिफ्ट करने का निर्णय लिया था । उसी आदेश पर अभी अमल करते हुए बंदियों को दूसरे जेल फुलवारी शिविर मण्डल कारा भेजा जा रहा है। बता दें कि जेल में बेउर जेल में बंदियों के रखने की क्षमता करीब 2500 है । इतने बंदियों के लिए जेल में कुल 125 वार्ड उपलब्ध हैं। लेकिन फिलहाल बेउर जेल में करीब 4500 कैदी बंद हैं । गौरतलब है कि बेउर जेल में कई कुख्यात कैदी सहित विधायक भी बंद हैं । फुलवारी शिविर मण्डल कारा के अंदर बंदियों को रखने की क्षमता करीब 700 है और फिलहाल यहाँ 500 बंदी ही है इसे देखते हुए बेउर जेल से 300 बंदियों को फुलवारी जेल शिफ्ट किया जा रहा है ।