इनरव्हील क्लब ऑफ मौर्य की ओर से शिक्षकों को मिला सम्मान

[Edited By: Robin Raj]

पटनासिटी(संवाददाता, न्यूज़ क्राइम 24): कोरोना महामारी को लेकर लंबे समय से शिक्षक छात्र से और छात्र शिक्षकों से दूर रहे लेकिन आज डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती पर “शिक्षक दिवस” मनाया गया. जिसमें सभी छात्र-छात्राएं शिक्षकों का सम्मान किये एवम उनको शुभकामनाएं दिए. वहीं इनरव्हील क्लब ऑफ मौर्य पटना की ओर से शिक्षकों को सम्मानित किया एवम अमित सिंह स्टूडियो के साथ मिलकर नृत्य कार्यशाला का आयोजन किया गया.

संस्था की अध्यक्ष वीना सिंह ने कहा-

इस मौके पर संस्था की अध्यक्ष वीना सिंह ने गुरु के महत्व पर प्रकाश डाला उन्होंने कहा कि गुरु ब्रह्मा गुरु विष्णु गुरु देवो महेश्वरा गुरु हमारे सब कुछ है आज शिक्षक दिवस पर उनको नमस्कार करती हूं और साथ-साथ सम्मान करती हूं आज शिक्षकों की वजह से ही लोग डॉक्टर, इंजीनियर, अफसर या अन्य पद अपने जीवन में हासिल करते है. शिक्षक के बताए हुए रास्ते पर चलकर हम सफल होते हैं इसलिए शिक्षक से बड़ा कोई नहीं होता शिक्षक व दिया है जो स्वयं जलकर दूसरों को प्रकाश पहुंचाता है. उन्होंने बताया कि भारतीय संस्कृति में गुरु का विशेष महत्व है. पश्चिमी देशों में गुरु का कोई महत्व नहीं है, वहां विज्ञान और विज्ञापन का महत्व है परंतु भारत में सदियों से गुरु का महत्व रहा है यहां की माटी एवं जनजीवन में गुरु को ईश्वरतुल्य माना गया है. क्योंकि गुरु न हो तो ईश्वर तक पहुंचने का मार्ग कौन दिखायेगा. गुरु ही शिष्य का मार्गदर्शन करते हैं और वे ही जीवन को ऊर्जामय बनाते हैं।