आउटसोर्सिंग कंपनी के प्रबंधक पर जानलेवा हमला, पूर्व पार्षद के घर में भी तोड़फोड़!

धनबादः शहर में पूर्व पार्षद के घर में जानलेवा हमले का मामला सामने आया है. जानकारी के अनुसार कुसुंडा एरिया 6 के गोन्दुडीह में संचालित हिलटॉप आउटसोर्सिंग कंपनी के प्रबंधक संतोष यादव पर अपराधियों ने जानलेवा हमला कर दिया, जिसमें वह बाल बाल बच गए.

प्रबंधक पर जानलेवा हमला.उसके बाद पूर्व पार्षद संजय यादव के घर में अपराधियों ने हमलाकर घर के अनेक सदस्यों को घायल कर दिया साथ ही गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया. घर के सदस्यों ने साहस का परिचय देते हुए हमलावरों में से एक सदस्य को पकड़ लिया. सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची. घर के सदस्यों ने पकड़े गए हमलावर को पुलिस के हवाले कर दिया गया है.आउटसोर्सिंग कंपनी से रंगदारी मांगने को लेकर यह हमला बताया जा रहा है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है. गोन्दुडीह आउटसोर्सिंग कंपनी के प्रबन्धक पर कंपनी जाने के दौरान बसेरिया स्टेशन के पास घात लगाए आपराधियों ने प्रबन्धक संतोष यादव पर हमला बोल दिया.घटना के संबंध में बताया जाता है कि कंपनी से रंगदारी मांगने और क्षेत्र में वर्चस्व को लेकर बसेरिया के ही रहने वाले वीरेंद्र यादव ,विनोद यादव, अजय यादव, सुभाष यादव सहित अन्य 6 से 7 लोगो ने कंपनी प्रबन्धक पर हमला बोल दिया. जिसके बाद कंपनी प्रबन्धक संतोष यादव गंभीर रूप से घायल हो गए. साथ ही गाड़ी को भी क्षतिग्रस्त कर दिया.उसके बाद घायल संतोष यादव ने बसेरिया के पूर्व पार्षद संजय यादव के भाई टुनटुन यादव को फोन कर सारी घटना की जानकारी दी, जिसके बाद तुरंत घटनास्थल पर टुनटुन यादव और उनके सहयोगी पहुंचे और मामला को शांत करवाना चाहा पर अपराधियों ने उन पर भी हमला बोल दिया. जिसके बाद जान बचाकर सभी केंदुआडीह थाना पहुंचे और इसकी लिखित जानकारी केंदुआडीह थाना को दी और त्वरित कार्रवाई करने की मांग की. वहीं 30 से 35 की संख्या में अपराधियो ने पुनः मौका देखकर पूर्व पार्षद संजय यादव के घर पर हमला बोल दिया और घर के सभी सदस्यों के साथ मारपीट करने लगे.इसमे घर के कई सदस्य घायल हो गये साथ ही घर में खड़ी कई गाड़ियों में तोड़फोड़ भी की. वहीं मारपीट के दौरान घर के सदस्यों ने एक आरोपी को पकड़कर घर में बंद कर दिया.घर के सदस्यों ने इसकी जानकारी गोन्दुडीह ओपी को दी. जिसके बाद गोन्दुडीह पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मामला को शांत कराया तथा आरोपी को पकड़ थाना ले गयी. वहीं घर के सदस्यों ने पूरे मामले की लिखित शिकायत गोन्दुडीह ओपी में की है और पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है।