अब थाने तक पहुंचा रानी चटर्जी धनंजय सिंह विवाद..!

भोजपुरी फिल्म अभिनेत्री साबिया सलीम शेख उर्फ रानी चटर्जी ने वरिष्ठ फिल्म पत्रकार धनंजय सिंह के खिलाफ दर्ज कराया प्राथमिकी. पत्रकार धनंजय सिंह रानी के लोगो की तरफ से जान से मारने की मिल रही धमकी के बाबत दर्ज कराऐगे प्राथमिकी. पूरा मामला सोशल मीडिया पर लिखे गए पोस्ट को लेकर. रानी का आरोप की विगत दो वर्षों से उन्हीं को इंगित कर कर लिखे जा रहे थे हतोत्साहित करने वाले पोस्ट आहत होकर रानी ने पिछले सप्ताह कहा कि कर लूंगी आत्महत्या. धनंजय सिंह ने कहा कि किसी का नाम लेकर नहीं लिखते पोस्ट उनकी लड़ाई भोजपुरी में फैली अश्लीलता के खिलाफ.भोजपुरी एक्ट्रेस रानी चटर्जी पिछले कुछ दिनों से डिप्रैशन को लेकर इंस्टाग्राम पर पोस्ट शेयर कर रही थीं। साथ ही सुसाइड की धमकी भी दे रही थीं। दरअसल, एक पोस्ट के जरिए रानी ने खुलासा किया था कि उन्हें 8 सालों से एक शख्स परेशान कर रहा था। सोशल मीडिया पर वो उन्हें भद्दे कमेंट्स करता था। इसकी वजह से वो काफी डिप्रैस हो गई थीं। एक्ट्रेस ने मुंबई पुलिस से मदद की गुहार लगाई थी। अब पुलिस ने भी मामले को संज्ञान में लेते हुए FIR दर्ज कर ली है और रानी ने खुशी जताई है। रानी ने इंस्टाग्राम पोस्ट लिखकर मुंबई पुलिस का शुक्रिया अदा किया है। वो इस लड़ाई को बिना हार माने लड़ेंगी। इसके साथ ही उन्होंने उन लोगों को भी शुक्रिया अदा किया जिन्होंने उनके हौसले को बढ़ाया है। रानी ने लिखा कि जो लोग इसे उनका पब्लिसिटी स्टंट समझ रहे हैं वो उनकी परवाह नहीं करतीं। साइबर बुलिंग के खिलाफ एक्शन के बाद से रानी चटर्जी ने राहत की सांस ली है।रानी ने अपनी आपबीती बताते हुए लिखा था कि वो बहुत ज्यादा परेशान हो चुकी हैं। ये आदमी कई सालों से उनके बारे में ना जाने कितनी गंदी-गंदी बातें फेसबुक पर लिख रहा है। उन्होंने बहुत इग्नोर करने की कोशिश की। लेकिन, अब वो इसे इग्नोर नहीं कर पा रही हैं। अब उन्हें उसकी बातें परेशान करने लगी है। इसकी वजह से वो मानसिक तनाव से गुजर रही हैं। एक्ट्रेस ने पोस्ट में लिखा कि वो शख्स चाहता है कि वो अपनी जान दे दें। इसकी वजह से उनकी जिंदगी में बहुत तनाव है।रानी ने मुंबई पुलिस से अपील करते हुए लिखा था कि अगर वो कुछ कर लेती हैं तो इसका जिम्मेदार धनंजय सिंह होगा। उन्होंने साइबर सेल में भी इसकी शिकायत की थी। पर वहां कहा गया कि इसने उनका नाम नहीं लिखा है। वो इस बात को जानती थीं कि वो शख्स सिर्फ उनके लिए लिखता है। वो इसके चलते हताश हो चुकी हैं। इससे परेशान होने के नाते ही उन्होंने आत्महत्या की धमकी दी थी। क्योंकि वो डिप्रैशन में थीं और अब वो बर्दाश्त नहीं कर सकती हैं.

दूसरी तरफ वरिष्ठ फिल्म पत्रकार धनंजय सिंह ने कहा कि उनके खिलाफ दर्ज कराए गए मामले मनगढ़ंत है उन्होंने कभी भी किसी का नाम लेकर कोई पोस्ट नहीं लिखा है क्योंकि वह फिल्म पत्रकार हैं भोजपुरिया इलाके से आते हैं इसलिए भोजपुरी में व्याप्त गंदगी अश्लीलता से दुखी रहते हैं फेसबुक पर मर्यादा में रहकर ही टिप्पणी करते हैं जान बूझकर रानी ने उन्हें टारगेट किया है उनके समर्थकों द्वारा उन्हें जान से मारने की धमकी दी जा रही है फेसबुक और मैसेंजर व्हाट्सएप पर गंदी गंदी गालियां दी जा रही है वे भी कानूनी सलाह ले रहे हैं. रानी का रुतबा बड़ा है इसलिए मीडिया में बैठे उनके प्यार हो एक पक्षी एक खबर छपवा रहे हैं वे उन सभी साइट के खिलाफ भी कानूनी कार्रवाई करेंगे जो उनका पक्ष लिए बगैर ही उनकी छवि को खराब कर रहे हैं. इस पूरे मामले में सबसे बड़ा चौंकाने वाला तथ्य यह है कि भोजपुरी का कोई भी बड़ा स्टार ना रानी के पक्ष में आया है और ना ही धनंजय सिंह के पक्ष में।