अधूरे शौचालयों को शीघ्र पूरा कराएं : डीएम

बलिया(संजय कुमार तिवारी): डीएम श्रीहरि प्रताप शाही की अध्यक्षता में सोमवार को जिला स्वच्छता समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई। इसमें अधूरे शौचालय निर्माण को पूरा करने के सख्त निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन लाभार्थियों को दूसरी किश्त नहीं गई है उनको तत्काल भेजें और उनके शौचालय का निर्माण कार्य पूरा कराना सुनिश्चित कराएं। स्पष्ट किया कि धन की कोई कमी नहीं है। जिले में पर्याप्त धन पड़ा है। ऐसे में निर्माण में लापरवाही का कोई बहाना नहीं चलेगा। जिलाधिकारी ने कहा कि नॉन एमआईएस को भी शौचालय की धनराशि भेजने के सम्बंध में शासन को अनुस्मारक भिजवाएं। सीडीओ व डीपीआरओ को लगातार इसकी मॉनिटरिंग करते रहने को कहा.

हर गांवों में बनेगा सामुदायिक शौचालय-

बैठक में सीडीओ बद्रीनाथ सिंह ने बताया कि चार सीट वाले सामुदायिक शौचालय हर गांव में बनवाना है। इसके लिए शासन से निर्देश आ चुका है। जिले के 743 गांवों से भूमि उपलब्ध होने की सूचना आ चुकी है। शेष गांव से भी जमीन का ब्यौरा आ जाए, सभी एडीओ (पंचायत) यह सुनिश्चित कराएं। कहा कि सबसे पहले उपलब्ध जमीन की खतौनी निकलवा लें। बाद में जमीनी विवाद की समस्या नहीं आनी चाहिए। यह कार्य प्राथमिकता पर किया जाना है। हर गांव में एक मॉडल शौचालय का भी नक्शा दिया गया है। सभी सचिव व एडीओ पंचायत पूरी गम्भीरता से इस कार्य को कराने के लिए पहल करें। सीडीओ ने कहा, इस बात का ख्याल रहे कि 14वें वित्त व राज वित्त के धन का उपयोग व्यक्तिगत शौचालय निर्माण के लिए नहीं करना है। जिलाधिकारी ने सार्वजनिक जगह जैसे-सरकारी स्कूल, बारात घर आदि जगह पर बनवाने पर जोर दिया। बशर्ते, किसी खास कैम्पस में नहीं होना चाहिए। बाहर होना चाहिए जहां कोई भी जा सके। उपयुक्त जगह के चयन के लिए एडीओ पंचायत को जिम्मेदारी सौंपी। बैठक में संयुक्त मजिस्ट्रेट अन्नपूर्णा गर्ग, सभी बीडीओ, एडीओ (पंचायत), कुछ प्रधान आदि मौजूद थे।